प्लास्टिक मुक्त अभियान से स्वस्थ भारत एवं श्रेष्ठ भारत की परिकल्पना संभव: डॉ अशोक



 


नोएडा :   विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर सेक्टर 41 स्थित आरोग्य सदन राष्ट्रीय आयुर्वेद विद्यापीठ आयुष मंत्रालय भारत सरकार के दिशा निर्देशन में एक स्वास्थ्य संगोष्ठी का आयोजन किया गया। 

 संगोष्ठी में मुख्य अतिथि के रूप में नवरत्न फाउंडेशन के अध्यक्ष डॉ अशोक श्रीवास्तव ने अपने उद्बोधन में कहा कि आज सारा विश्व प्रदूषित  पर्यावरण से भय एवम् विषाद से व्याकुल है जिसमें बढ़ रहे उद्योगों के साथ भारी मात्रा में प्लास्टिक का उपयोग जहां जनजीवन को एक ओर रोग ग्रस्त कर रहा है वहीं  दूसरी ओर रासायनिक उर्वरक कृषि भूमि को बंजर बनाकर जनजीवन के लिए एक अभिशाप हो रहा है। डॉ श्रीवास्तव ने अपने संदेश में कहा कि हमने नवरत्न फाउंडेशन के माध्यम से चल रहे स्कूलों के 800 छात्रों तथा लगभग40 सिलाई केंद्रों में कार्यरत महिलाओं को संकल्प के साथ यह संदेश दिया हैं की वह जन जीवन को प्लास्टिक मुक्त अभियान में अपना अथक सहयोग दें जिससे स्वस्थ भारत तथा श्रेष्ठ भारत निर्माण का सपना साकार हो सके।

राष्ट्रीय आयुर्वेद विद्यापीठ आयुष मंत्रालय भारत सरकार के गुरु वैद्य अच्युत कुमार त्रिपाठी ने कहा कि पर्यावरण के संतुलन  में वृक्षारोपण की भूमिका प्रमुख है। अंधाधुंध वृक्षों की कटाई से आंधी तूफान , ओलावृष्टि, अनावृष्टि जैसी घटनाएं देश के विकास तथा समृद्धि  के लिए अभिशाप बन रही है।

उक्त अवसर पर राष्ट्रिय आयुर्वेद विद्यापीठ के अध्ययन रत चिकित्सक वैद्य रुचि राणा, वैद्य प्रदीप कुमार के अतिरिक्त विशिष्ट अतिथि के रूप में आमन्त्रित भारतीय जनता पार्टी के मंडलाध्यक्ष कल्लू सिंह राजपूत,पूर्व उपनिदेशक हार्टिकल्चर ,

बुद्धा सिंह,तथा समाजसेवी रमेश शर्मा के अतिरिक्त नगर के गणमान्य नागरिक उपस्थित हुए।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

*"आज़ादी के दीवानों के तराने* ’ समूह नृत्य प्रतियोगिता में थिरकन डांस अकादमी ने जीता सर्वोत्तम पुरस्कार

ईश्वर के अनंत आनंद को तलाश रही है हमारी आत्मा

सेक्टर 122 हुआ राममय. दो दिनों से उत्सव का माहौल