संदेश

अगली पीढ़ी के कम्प्यूटर उपकरण डिजाइन करने की नई तकनीक

चित्र
 न ई दिल्ली(इंडिया साइंस वायर): भविष्य की कम्प्यूटिंग आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए वर्तमान में प्रचलित मल्टीकोर प्रोसेसर की कंप्यूटिंग क्षमता में सुधार की आवश्यकता है। विभिन्न क्षेत्रों में बढ़ती अत्याधुनिक कम्प्यूटेशनल माँग को देखते हुए एप्लिकेशन-विशिष्ट प्रोसेसर के साथ-साथ अधिक कुशल एवं त्वरित रिस्पॉन्स क्षमता से लैस उपकरणों का विकास कम्प्यूटिंग उद्योग की एक प्रमुख जरूरत है। भारतीय शोधकर्ताओं ने तेज और सुरक्षित एकीकृत सर्किट (ICs) के डिजाइन के लिए नई प्रौद्योगिकी विकसित की है, जो अगली पीढ़ी के उन्नत कम्प्यूटिंग उपकरणों के निर्माण में उपयोगी हो सकती हैं।   भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी), गुवाहाटी के शोधकर्ताओं द्वारा किया गया यह अध्ययन स्वचालित इलेक्ट्रॉनिक्स डिजाइन प्रक्रिया में शामिल - संश्लेषण, सत्यापन और सुरक्षा के आयामों पर केंद्रित है। प्रमुख शोधकर्ता डॉ चंदन कारफा ने बताया है कि “हाई-लेवल सिंथेसिस (HLS) प्रक्रिया को मान्य करने के लिए इस अध्ययन में दो उपकरण विकसित किए गए हैं। इनमें से एक FastSim नामक ‘रजिस्टर ट्रांसफर लेवल (आरटीएल)’ सिम्युलेटर है, जो मौजूदा वाणिज्यिक सिम

न केवल भारत में बल्कि विश्व में भी मक्का की लोकप्रियता तेजी से बढ़ रही

चित्र
 मक्का उत्पादन बढ़ाने के लिए किसानों व उद्यमियों को सरकार का पूरा समर्थन- श्री तोमर पिछले 8 साल के दौरान मक्का का न्यूनतम समर्थन मूल्य 43 प्रतिशत बढ़ाया गया ’भारत मक्का शिखर सम्मेलन- 2022’ के 8वें संस्करण को केंद्रीय कृषि मंत्री श्री तोमर ने किया संबोधित नई दिल्ली: केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा है कि भोजन के साथ ही कुक्कट पालन व एथनाल उत्पादन सहित विविध क्षेत्रों में मक्का का इस्तेमाल होने से न केवल भारत में बल्कि विश्व में भी मक्का की लोकप्रियता तेजी से बढ़ रही है। सरकार फसलों के विविधीकरण कार्यक्रम के तहत, विभिन्न पहलों के जरिये किसानों को मक्का उत्पादन बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित कर रही है। साथ ही, सरकार ने विभिन्न पहल व पैकेजों से उद्यमियों को भी समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि पिछले लगभग 8 साल के दौरान मक्का का न्यूनतम समर्थन मूल्य 43 प्रतिशत बढ़ाया गया है। इसके साथ ही मक्का का उत्पादन बढ़ने से किसानों को भी इसका काफी लाभ मिला है। केंद्रीय मंत्री श्री तोमर ने यह बात देश के प्रमुख वाणिज्य एवं उद्योग मंडल फिक्की द्वारा आयोजित ’भारत मक्का शिखर सम्मेलन-2022’

पटवाई, रामपुर (यूपी) में देश का पहला "अमृत सरोवर"

 राम पुर  ( यूपी )  :   देश   के   पहले  " अमृत   सरोवर "  का   उद्घाटन   आज   केंद्रीय   अल्पसंख्यक   कार्य   मंत्री   एवं   उपनेता ,  राज्य   सभा ,  मुख्तार   अब्बास   नकवी   एवं   उत्तर   प्रदेश   के   जल   शक्ति   मंत्री     स्वतंत्र   देव   सिंह   द्वारा   पटवाई ,  रामपुर   में   किया   गया। इस   अवसर   पर   श्री   नकवी   ने   कहा   कि   प्रधानमंत्री   श्री   नरेंद्र   मोदी   की   प्रेरणा   एवं   उत्तर   प्रदेश   के   मुख्यमंत्री   श्री   योगी   आदित्यनाथ   के   मार्गदर्शन   में   पटवाई ,  रामपुर   में   यह   आकर्षक  " अमृत   सरोवर "  तैयार   हुआ   है। श्री   नकवी   ने   कहा   कि   बहुत   ही   कम   समय   में   इस   भव्य  " अमृत   सरोवर "  का   शुभारम्भ   होने   में   आम   जनों   की   सहभागिता ,  ग्रामीणों   का   सहयोग, ग्राम पंचायत   एवं   जिला   प्रशासन   की   मुस्तैदी   महत्वपूर्ण   रही   है। श्री   नकवी   ने   कहा   कि   अपने   पिछले  " मन   की   बात "  कार्यक्रम   में   प्रधानमंत्री   श्री   नरेंद्र   मोदी   ने   पटवाई ,  रामपुर   में  

‘भारत को वैश्विक महाशक्ति बनाने का सूत्रधार होंगे अभिनव स्टार्ट-अप’

चित्र
 न ई दिल्ली(इंडिया साइंस वायर): केंद्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय, राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय, राज्य मंत्री पीएमओ और राज्य मंत्री कार्मिक और लोक शिकायत, डॉ जितेंद्र सिंह ने स्वदेशी नवाचार के साथ स्थायी स्टार्ट-अप के निर्माण पर जोर दिया है। डॉ जितेंद्र सिंह ने कहा, 25 वर्षों के बाद भारत जब अपनी स्वाधीनता के 100 साल पूर्ण करेगा, तब तक देश को विश्व के अग्रणी राष्ट्र के रूप में स्थापित करने के लिए युवा उद्यमियों द्वारा संचालित अभिनव स्टार्ट-अप्स को जिम्मेदारी लेनी होगी। असम के जोरहाट में ‘आइकॉनिक 75 इंडस्ट्री कनेक्ट (आई-कनेक्ट)’ के उद्घाटन समारोह में बोलते हुए डॉ जितेंद्र सिंह ने यह बात कही है।  इस मौके पर डॉ जितेंद्र सिंह ने विश्व स्तरीय उत्पाद बनाने से लेकर उन्हें बाजार तक पहुँचाने हेतु अनुसंधान एवं विकास में उद्योग जगत से सार्थक निवेश के लिए आग्रह किया। उन्होंने भारतीय और विश्व बाजारों में अपनी जगह बनाने के लिए उत्पादों के ब्रांड निर्माण की आवश्यकता को भी रेखांकित किया। गवर्नमेंट-इंडस्ट्री कनेक्ट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र

सत्य के अन्वेषण से ज्ञानवापी को घबराहट क्यों!!

चित्र
-  विनोद बंसल ,  प्रवक्ता - विहिप   काशी में मां श्रंगार गौरी के दर्शन पूजन के अधिकारों को पुन: प्राप्त करने के लिए हिंदू समाज दशकों से प्रतीक्षा कर रहा है। इस संबंध में काशी के न्यायालय में वाद पर माननीय न्यायाधीश ने उस परिसर की वीडियोग्राफी और सर्वे का आदेश दिया। एडवोकेट कमिश्नर के माध्यम से  यह कार्य होना है। किंतु ,  न्यायालय द्वारा नियुक्त अधिकारी को तथाकथित मस्जिद परिसर में जाने से रोक दिया गया। उसके पीछे उस ज्ञानवापी इंतजामियां कमेटी के सचिव ने जो चार तर्क दिए वे बेहद गंभीर हैं। उन्होंने कहा कि ; 1.   हम किसी गैर मुस्लिम को मस्जिद के अंदर नहीं घुसने देंगे। 2.  क्योंकि कोर्ट ने हमारी बात नहीं सुनी इसलिए ,  हम कोर्ट की बात नहीं सुनेंगे। 3.  मस्जिद के अंदर की वीडियोग्राफी या फोटो खींचने से हमारी सुरक्षा को खतरा है। वह वीडियोग्राफी मार्केट में आ जाएगी। 4.  चौथी और बेहद आपत्तिजनक तर्क था कि ऐसे तो यदि कोर्ट कहे कि मेरी गर्दन काट के ले आओ तो क्या कोर्ट द्वारा नियुक्त अधिकारी को मैं अपनी गर्दन काटकर दे दूंगा! इस तरह की बातों को कोई भी सभ्य समाज का व्यक्ति ,  जो कानून में विश्वास रखता ह

पहली भारत गौरव पर्यटक ट्रेन श्री रामायण यात्रा के लिए चलाई जाएगी

चित्र
रेल मंत्रालय द्वारा भारत गौरव पर्यटक ट्रेन चलाने की योजना बनाई गयी थी।    आईआरसीटीसी द्वारा पहली भारत गौरव ट्रेन 21 जून से प्रारंभ की जा रही है।  यह ट्रेन स्वदेश दर्शन के अंतर्गत चिन्हित रामायण सर्किट पर प्रभु श्रीराम के जीवन से जुड़े स्थलों का पर्यटन कराएगी। नेपाल स्थित जनकपुर मे राम जानकी मंदिर का भ्रमण भी ट्रेन टूर में शामिल होगा।  21 जून को दिल्ली सफदरजंग रेलवे स्टेशन से 18  दिनों के टूर पर रवाना होगी ‘भारत गौरव’ एसी पर्यटक ट्रेन।  आईआरसीटीसी की भारत गौरव ट्रेन में एसी तृतीय श्रेणी के कुल 10 कोच यात्रियों के लिए होंगे जिसमें कुल 600 यात्री यात्रा कर सकेंगे।  इस पर्यटक ट्रेन में पैन्ट्री कोच की सुविधा होगी जिससे पर्यटकों को शाकाहारी भोजन परोसा जाएगा । साथ ही इन्फोटेन्मेंट सिस्टम, सीसीटीवी कैमरा, सिक्युरिटी गार्ड इत्यादि की व्यवस्था भी उपलब्ध कराई जाएगी।   मेसर्स आर. के. एसोसिएटस् , इस भारत गौरव ट्रेन के लिए आईआरसीटीसी के साथ सर्विस पार्टनर रहेगा।  आईआरसीटीसी ने टूर के बुकिंग प्रक्रिया को सुगम बनाने के लिए पेटीएम व रेज़रपे जैसी पेमेंट गेटवे संस्थाओं से करार किया है जिससे भुगतान डेबिट/

*केजरीवाल की तानाशाही की रखैल बन गयी पंजाब सरकार और पंजाब पुलिस*

चित्र
 *राष्ट्र-चिंतन*   *बग्गा प्रकरण की कानूनी अहर्ताएं*   *आचार्य श्री विष्णुगुप्त*  ================ तेजिन्दर सिंह बग्गा प्रकरण का अंतिम कानूनी लड़ाई कहां तक पहुंच कर समाप्त होगी? इसमें हार पंजाब सरकार की होगी या फिर तेजिन्दर सिंह बग्गा की हार होगी? इस प्रकरण में कानूनी अहर्ताओं को लेकर कोई एक नहीं बल्कि कई प्रश्न खड़े हुए हैं। क्या पंजाब पुलिस की कार्रवाई कानूनी अहर्ताओं पर खड़ा उतरती थी? क्या पंजाब पुलिस राजनीति से प्रेरित होकर ऐसी कार्रवाई के लिए अग्रसर हुई थी? पंजाब पुलिस को पहले मोहाली जहां पर मुकदमा दर्ज हुआ था वहां से गिरफ्तारी वारंट नहीं लेना चाहिए था? तेजिन्दर सिंह बग्गा की गिरफ्तारी के बाद फौरन उसे लेकर पंजाब की ओर भाग जाना क्या सही था? तेजिन्दर सिंह बग्गा को लोकल कोर्ट में उपस्थित नहीं करना चाहिए था क्या ? लोकल कोर्ट से ट्रांजिट रिमांड पर तेजिन्दर सिंह बग्गा को लेकर जाना चाहिए था। पंजाब की पुलिस ने लोकल कोर्ट से तेजिन्दर सिंह बग्गा को ट्रांजिट रिमांड पर क्यों नहीं ली थी? ट्रांजिट रिमांड पर उसे पुलिस लेती तो निश्चित तौर दिल्ली और हरियाणा पुलिस के हाथ-पैर बंधे हुए होते और पंजाब पुल