संदेश

नल से घर - घर जल

चित्र
 डॉ . दिनेश प्रसाद मिश्र      भारत सरकार ने देश में व्याप्त पेयजल समस्या को दृष्टि में रखकर जल  संसाधन, नदी विकास ,गंगा जीर्णोद्धार और पेयजल एवं स्वच्छता विभाग को शामिल कर इन मंत्रालयों को संगठित कर  जल शक्ति मंत्रालय का गठन किया और उसको देश में व्याप्त जल समस्या को समाप्त करने तथा हर घर को नल से पानी उपलब्ध कराने की दिशा में कार्य करने हेतु निर्देशित किया। प्रधानमंत्री ने स्वयं नीति आयोग की बैठक में हर घर को पेयजल उपलब्ध  कराने के संदर्भ में रीति नीति को व्यक्त कर उस पर अविलंब तथा द्रुतगामी कार्यवाही कर 2024 तक उपलब्ध कराने हेतु समय सीमा भी निर्धारित कर दी है। प्रधानमंत्री द्वारा प्रस्तावित यह योजना उनकी अन्य प्रभावी सौभाग्य योजना, उज्जवला योजना तथा स्वच्छता अभियान जैसी महत्वपूर्ण  अत्यंत क्रांतिकारी योजना है। सौभाग्य योजना के अंतर्गत मोदी सरकार ने देश के कोने कोने में बिजली पहुंचा कर लगभग हर घर तक बिजली पहुंचाने का अपना लक्ष्य प्राप्त कर लिया है। इसी प्रकार उज्जवला योजना के अंतर्गत समाज के निम्नतम तबके तक गैस चूल्हा पहुंचा कर उज्जवला योजना को सार्थक किया है। स्वच्छता अभियान के द्वारा

मूक लोगों के सुगम संवाद के लिए 'बोलने वाले दस्ताने'