देश भर में विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल की ओर से शौर्य जागरण यात्राओं का किया जा रहा आयोजन

   

नई दिल्ली :..सनातन धर्म के महान विभूतियों, शूरवीरों और महापुरुषों के शौर्य का युवा पीढ़ी को स्मरण करवाने और भारत की संस्कृति, सनातन धर्म के प्रति गौरव का भाव पैदा करने के उद्देश्य से देश भर में विश्व हिंदू परिषद (विहिप) और बजरंग दल की ओर से शौर्य जागरण यात्राओं का आयोजन किया जा रहा है। इसी कड़ी में आज से दिल्ली में पांच जिलों से शौर्य जागरण यात्रा का शुभारंभ किया गया। ऐसी यात्राएं पूरे प्रदेश के तीस जिलों में आयोजित की



जाएंगी और १४ अक्टूबर को इसका समापन दिल्ली के द्वारका में विशाल यात्रा के रूप में होगा। यात्रा का उद्देश्य विहिप के राम मंदिर आंदोलन में बलिदान देने वाले और उसके संघर्षाे को याद दिलाने और विधर्मियों की और से सनातन धर्म के अपमान का जवाब देना भी है। 

इसके साथ ही इस यात्रा का उद्देश्य सनातन धर्म के प्रति युवाओं को जागृत करना, हिंदू संस्कृति का गौरव बढ़ाना  और राम मंदिर के कपाट खुलने पर लोगों को बुलाना है भी है । 

 शनिवार को वीर स्मारक में विहिप की ओर से देश के लिए शहीद हुए वीर सैनिकों को श्रद्धांजली अर्पित की गई। 

इस अवसर पर विहिप के प्रांत अध्यक्ष कपिल खन्ना ने कहा कि आज के समय यह बहुत जरूरी है कि हिंदू समाज को जगाया जाए। सनातन धर्म के विरुद्ध उठ रहे आवाज को कुचला जाए। 

उन्होंने कहा की नब्बे के दशक में हमने एक बड़ा संघर्ष लड़ा है।  वह 500 साल का लंबा इंतजार खत्म हुआ।  हमारे अयोध्या में भगवान राम की कपाट खुलने वाले हैं।  सभी भारी संख्या में वहां पहुंचे और एकजुट होकर विधर्मियों को जवाब दें। 

इस सभा में महामंडलेश्वर नवल किशोर दास भी उपस्थित रहे। उन्होंने कहा कि सनातन से बड़ी कोई शक्ति नहीं, हम लड़ना भी जानते हैं और मुंहतोड़ जवाब देना भी जानते हैं, जो सनातन के खिलाफ बोलेगा, वह खुद मिट्ठी में मिल जाएगा। 

उन्होंने कहा कि सनातनियों को एक मंच के नीचे आना चाहिए और इस शौर्य जागरण उत्सव को बढ़ चढ़ कर मनाना चाहिए। 

इस अवसर पर विहिप के प्रांत मंत्री सुरेंद्र गुप्ता ,प्रांत संगठन मंत्री  सुबोध सहित विहिप से जुड़े कई कार्यकर्ता सम्मिलित हुए।


   

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

*"आज़ादी के दीवानों के तराने* ’ समूह नृत्य प्रतियोगिता में थिरकन डांस अकादमी ने जीता सर्वोत्तम पुरस्कार

ईश्वर के अनंत आनंद को तलाश रही है हमारी आत्मा

सेक्टर 122 हुआ राममय. दो दिनों से उत्सव का माहौल