नोएडा महानगर कार्यकारणी की हुई घोषणा

 


नोएडा 
समाजवादी पार्टी नोएडा महानगर  द्वारा सेक्टर 33 स्थित अग्रसेन भवन में प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि पूर्व मंत्री राकेश यादव ने प्रेस वार्ता में नोएडा महानगर कार्यकारिणी की घोषणा की। 
महानगर अध्यक्ष डॉक्टर आश्रय गुप्ता की टीम में विकास यादव को महासचिव की जिम्मेदारी सौंपी गई वहीं मुकेश बाल्मीकि, संजय त्यागी, नितीश बैसोया एडवोकेट, मोहम्मद नौशाद, ऋषि शर्मा, शकील सैफी को उपाध्यक्ष बनाया गया है। विपिन अग्रवाल को कोषाध्यक्ष की जिम्मेदारी दी गई। कार्यकारिणी में 15 सचिव बनाए गए हैं  कमल गौतम, मनोज प्रजापति, गौरव यादव, पंकज झा, महकार सिंह तंवर, मोहसिन सैफी, अरविंद चौहान, तनवीर हुसैन, दिव्यांशु यादव, गौरव सिंघल, अरुण यादव, नूरुल हसन, विपिन चौहान, उदयवीर यादव, अंकित यादव को जिम्मेदारी सौंपी गई है। इसके अलावा सत्ताइस सदस्य बनाए गए हैं।
 प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री राकेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार ने समाज की समरसता नष्ट करने के अलावा विकास का कोई कार्य नहीं किया है। विकास कार्य अवरुद्ध हो गए हैं और भ्रष्टाचार चरम पर है। इस सरकार में किसान, नौजवान, मजदूर सभी परेशान हैं। उन्होंने कहा कि  नोएडा महानगर की कार्यकारिणी लोगों को पार्टी से जोड़ने का काम करेंगे। इस कमेटी में सभी वर्गों को प्रतिनिधित्व दिया गया है। इस मौके पर महानगर अध्यक्ष डॉक्टर आश्रय गुप्ता ने कहा कि कार्यकारिणी का गठन हो गया है । सभी वरिष्ठ नेताओं को साथ लेकर पार्टी को मजबूत करने का कार्य करेंगे। इस अवसर पर पूर्व जिलाध्यक्ष वीर सिंह यादव, फकीरचंद नागर, सूबे यादव, दलवीर यादव, राघवेन्द्र दुबे, बबलू चौहान, ओमपाल राणा,सुनील चौधरी, देवेंद्र अवाना, भीष्म यादव, मुन्ना आलम, देवेंद्र गुर्जर, सुंदर यादव, रवि शर्मा, राणा मुखर्जी, विनोद यादव, वीरपाल प्रधान, जगत चौधरी, मोनू खारी, अनिल पंडित, उदय जाटव, नरेंद्र शर्मा, सादाब खान, परविंदर यादव, नेहा पांडे, राम सहेली, रूबी यादव सहित तमाम सपा नेता मौजूद रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

*"आज़ादी के दीवानों के तराने* ’ समूह नृत्य प्रतियोगिता में थिरकन डांस अकादमी ने जीता सर्वोत्तम पुरस्कार

योगदा आश्रम नोएडा में स्वामी चिदानंद गिरी के दिव्य सत्संग से आनंदित हुए साधकगण

आत्मसाक्षात्कार को आतुर साधकों को राह दिखाने के लिए ईश्वर द्वारा भेजे गए संत थे योगानंद- स्वामी स्मरणानंद