देश में जातीय जनगणना का मैं समर्थन करता हूंः रामदास आठवले


नई दिल्ली। रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया(आठवले) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री  रामदास आठवले ने एक बार फिर देश में जातीय आधारित जनगणना का समर्थन किया है। उन्होंने कहा है कि बहुसंख्यकों की सभी क्षेत्र में हिस्सेदारी बढ़ाने के लिए जातीय जनगणना और उस आधार पर नीतियों की जरूरत है। 

यहां कांस्टीट्यूशन क्लब में वी द पीपुल नामक संस्था की ओर से मंगलवार को आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री श्री आठवले ने जातीय जनगणना के औचित्य पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी आरपीआई बहुसंख्यकों की हकमारी रोकने और वाजिब हिस्सेदारी दिलाने के लिए प्रतिबद्ध है। 

उन्होंने कहा कि देश में वर्ष 2021 की जनगणना जातीय आधार पर होनी चाहिए। ताकि देश में सभी जातियों की सही तस्वीर सामने आ सके। समाज के वंचित तबके का उत्थान सही नीतियों के माध्यम से हो सकता है। इस मौके पर बिहार के पूर्व विधायक ददन पहलवान, पूर्व सांसद राजकुमार सैनी, साजिद हस्मद, देवेंद्र सैनी, शफीज दहलवी आदि गणमान्य जन प्रमुख रूप से मौजूद रहे।