जनपद के ग्रामीण क्षेत्रों में धान की पराली न जलाने के लिए संचालित किया जा रहा है जागरूकता कार्यक्रम

 जनपद में प्रदूषण को रोकने के लिए डीएम सुहास एल.वाई. के निर्देश पर राजस्व विभाग की बड़ी कार्यवाही की


ग्रेटर नोएडा 


जनपद के प्रदूषण को कम करने एवं पर्यावरण शुद्ध बनाने की दिशा में जिलाधिकारी सुहास एल.वाई. के नेतृत्व में राजस्व विभाग के अधिकारियों कर्मचारियों द्वारा गांव-गांव में पहुंचकर जागरूकता कार्यक्रम संचालित करते हुए ग्रामीणों को धान की पराली न जलाए जाने के संबंध में प्रेरित किया जा रहा है वहीं दूसरी ओर पराली जलाने से पर्यावरण को नुकसान होने की जानकारी तथा पराली जलाने पर किन सुसंगत धाराओं में उनके खिलाफ कार्रवाई हो सकती है इसके संबंध में भी ग्रामीणों को जागरूक किया जा रहा है ताकि पूरे जनपद में किसानों के द्वारा पराली न जलाई जाए।


इस कड़ी में डीएम के निर्देश पर उप जिलाधिकारी सदर प्रसून द्विवेदी एवं तहसीलदार आलोक प्रताप सिंह के नेतृत्व में राजस्व विभाग की टीम ग्राम पंचायत फजाइलपुर में पहुंची जहां पर उन्होंने पराली न जलाने के संबंध में सभी किसानों एवं ग्रामीणों को जागरूक करते हुए उन्हें पराली न जलाने के लिए प्रेरित किया गया। राजस्व टीम के द्वारा ग्रामीणों को यह भी बताया गया कि यदि किसी किसान के द्वारा पराली जलाई जाएगी तो उनके विरूद्ध कार्यवाही भी सुनिश्चित हो सकती है। यह कार्यवाही जनपद के पर्यावरण को शुद्ध एवं सुंदर बनाने के लिए की जा रही है।


इस संबंध में तहसीलदार आलोक प्रताप सिंह ने जानकारी देते हुए अवगत कराया है कि जिलाधिकारी के निर्देशन में आगे भी अन्य ग्रामीण क्षेत्रों में इसी प्रकार जागरूकता कार्यक्रम संचालित किया जाएगा। 


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

*सेक्टर १२२ में लेडीज़ क्लब ने धूमधाम से मनाई - डांडिया नाइट *

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव