लोजपा ने बिहार चुनाव को लेकर बैठक की, गठबंधन का फैसला के चिराग अधिकृत

नई दिल्ली 


आज लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान  ने बैठक बिहार चुनाव के संदर्भ में रखी थी। बैठक में सभी सांसद व पूर्व सांसद मौजूद रहे। ख़गड़िया सांसद महबूब अली कैसर पटना में रहने व अस्वस्थ होने के कारण वी॰सी॰ के माध्यम से जुड़े।


बैठक में सभी साथियों ने दलित सेना व लोक जनशक्ति पार्टी के संस्थापक राम विलास पासवान व हाजीपुर सांसद  पशुपती कुमार पारस के बारे में चिंता जताई और जल्द स्वस्थ होने की कामना की।


बैठक की शुरूआत में चिराग पासवान ने सभी सांसदों व पूर्व सांसदों को प्रधानमंत्री द्वारा बिहार के लिए उठाए कदमों व परियोजनाओं पर बधाई दी।भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष से कल देर रात मुलाक़ात हुई थी इसकी जानकारी भी अध्यक्ष  ने सभी सांसदों से साझा की व साथ में प्रधानमंत्री  को भेजे पत्र के बारे में जानकारी दी।


बिहार चुनाव के संदर्भ में पार्टी के सभी सांसद व पूर्व सांसदो ने बारी बारी से अपनी बात रखी।बैठक में सभी सांसदों ने बिहार के अधिकारीवाद पर चिंता जताई और इससे लड़ने के लिए योजना बनाई। सभी सांसदों ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को कालिदास कहने पर 


ललन सिंह के बयान पर घोर आपत्ति जताई और निंदा प्रस्ताव पास किया व साथ में के॰सी॰ त्यागी  के बयान कि जे॰डी॰यू॰ का लोजपा से कोई गठबंधन नहीं है उसका स्वागत किया गया।


इस बैठक में बिहार सरकार द्वारा अनुसूचित जाति जनजाति को पूर्व में किए गए 3 डिसमिल ज़मीन के वादे को पूरा करवाने पर भी माँग हुई ताकि मौजूदा सरकार पर विश्वास बन सके।सभी सांसदों ने यह भी प्रस्ताव बैठक में रखा की पार्टी को इस बार के चुनाव में कई पत्रकारों को भी टिकट देना चाहिए जिसको सर्वसम्मति से पास किया गया।


बैठक में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष आदरणीय चिराग पासवान  ने बिहार संसदीय बोर्ड में हुई सभी महत्वपूर्ण बातों को अपने सभी सांसदों को बताया व बिहार संसदीय बोर्ड से पार्टी ने 143 विधान सभा सीट पर प्रत्याशियों की सूची बना कर जल्द केंद्रीय संसदीय बोर्ड दे को देनी की बात कही है इस बात से भी सभी सांसदों को अवगत करवाया जिसपर सभी सांसदों ने बिहार इकाई को बधाई दी।


सभी सांसदों ने पार्टी के गठबंधन पर  और आगे के सभी फ़ैसलो के लिए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष  चिराग पासवान को एकमत से अधिकृत किया है। पार्टी ने यह फ़ैसला लिया की जल्द बिहार1st बिहारी1st विज़न डॉक्युमेंट की बैठक होगी और उसके बाद केंद्रीय संसदीय बोर्ड की बैठक होगी जिसमें आख़िरी फ़ैसला लिया जाएगा।


बैठक के अंत में सभी सांसदो ने पूर्व मंत्री स्वर्गीय रघुवंश प्रसाद सिंह  को श्रद्धांजलि अर्पित की।


 


 


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन