स्कूल की लाइब्रेरी में लगी भीषण आग, लाखों की किताबें जलकर खाक






नोएडा। सेक्टर-132 स्थित जेबीएम ग्लोबल स्कूल की लाइब्रेरी में रविवार की सुबह अचानक आग लग गई। स्कूल में छुट्टी होने के कारण गार्डों ने बिल्डिंग से धुआं निकलते देख फायर ब्रिगेड को सूचना दी। मौके पर पहुंचे 07 फायर टेंडर और एक हाइड्रोलिक प्लेटफॉर्म ने घंटों की मशक्कत के बाद आग को काबू में किया। लाइब्रेरी में किताबें होने के कारण आग बुझाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। आग की इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ, लेकिन लाखों की किताबें जलकर खाक हो गईं। आग लगने का कारण अभी साफ नहीं हो पाया है। शुरुआती जांच में शॉट सर्किट से आग लगने की बात कही जा रही है।

 

चीफ फायर ऑफिसर (सीएफओ) अरुण कुमार सिंह ने बताया कि कोरोना संकट के कारण स्कूल में छुट्टी है। लेकिन, सुरक्षा के लिए वहां गार्ड तैनात हैं। रविवार की सुबह बिल्डिंग की तीसरी मंजिल से धुआं निकलने लगा। यह देखकर वहां तैनात गार्ड ने फायर डिपार्टमेंट को सुबह 7.55 बजे सूचना दी। सूचना पाते ही मौके पर एक्सप्रेस-वे और फेज-एक और फेज-दो से कुल 07 फायर टेंडर और एक हाइड्रोलिक प्लेटफार्म भेजा गया। वह खुद भी मौके पर पहुंच गए। उनके साथ अग्निशमन अधिकारी कमलेश कुमार मिश्र भी मौके पर पहुंचे और आग को काबू में करने की कोशिशें शुरू की गईं।  

 

सीएफओ ने बताया कि आग स्कूल के थर्ड फ्लोर पर लगी थी। वहां लाइब्रेरी होने के कारण आग काफी बढ़ गई थी। अत्यधिक धुआं और ताप होने के कारण अंदर तक पहुंचना मुश्किल हो रहा था। पास में ही निर्माणाधीन बिल्डिंग साइट से क्रेन लेकर उसकी मदद से ऊपर जाकर विंडो तोड़ा गया। वेंटिलेशन बनाने के बाद ही ऊपर पहुंचना सम्भव हो पाया। उन्होंने बताया कि लगातार पम्पिंग करते हुए ऊपर और नीचे के फ्लोर को पूरी तरह बचा लिया गया। जबकि थर्ड फ्लोर का अधिकांश भाग जल गया। 

 

सीएफओ ने बताया कि इस अग्निकांड में कोई जनहानि नहीं हुई है। लेकिन, लाखों की किताबें जलकर खाक हो गई हैं। आग लगने के कारणों का अभी पता नहीं चला है। कोरोना संकट के कारण स्कूल बंद चल रहा है। अनुमान है कि बिजली की शार्ट सर्किट से आग लगी होगी। फोरेंसिक टीम घटनास्थल का मुआयना कर आग के कारणों का पता लगा रही है।


 

 



 



 















जवाब देंफ़ॉरवर्ड करें