राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम के जय सहकार कार्यक्रम का केंद्रीय कृषि मंत्री ने किया शुभारंभ

 ए


नसीडीसी व इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स के बीच समझौता ज्ञापन एवं डोयशे बैंक से ऋण अनुबंध

को-आपरेटिव व कार्पोरेट्स के सहयोग से देश के किसानों को मजबूत करने की पहल- श्री तोमर

नई दिल्ली: कृषि‍ भवन, नई दिल्ली में मंगलवार को आयोजित एक समारोह में केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम (एनसीडीसी) के जय सहकार कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस अवसर पर एनसीडीसी व इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स के बीच समझौता ज्ञापन एवं डोयशे बैंक से ऋण अनुबंध हुआ। कार्यक्रम में श्री तोमर ने कहा कि यह को-आपरेटिव के माध्यम से देश के किसानों को मजबूत करने की पहल है। किसानों को उनकी उपज के वाजिब दाम मिलें और मूल्य संवर्धन हो सकें, इसके लिए अन्य संस्थाओं की तरह एनसीडीसी सहकारिता क्षेत्र को मजबूत करने में जुटा है। 

केंद्रीय मंत्री श्री तोमर ने उम्मीद जताई कि कृषि क्षेत्र की चुनौतियां दूर करते हुए गैप्स भरने के लिए सभी संस्थाएं और लोग भारत सरकार के साथ हमकदम होंगे। सरकार की नीतियों, किसानों के परिश्रम व वैज्ञानिकों के अनुसंधान के कारण भारत आज कृषि के क्षेत्र में तेजी से प्रगति कर रहा है, साथ ही खाद्यान्न में आत्मनिर्भर बन चुका है। श्री तोमर ने कहा कि डोयशे बैंक के साथ ऋण अनुबंध एक नए संबंध की शुरूआत का प्रतीक है, जो यह सुनिश्चित करेगा कि भारत के किसानों को सस्ते वित्तपोषण तक पहुंच के माध्यम से लाभ हो सकें। 

डोयशे बैंक एजी भारत में किसानों की सहकारी समितियों द्वारा कार्यकलापों के लिए एनसीडीसी को ऋण देने के लिए आगे आया है। यह पहली बार है कि जब कोई जर्मन बैंक एनसीडीसी को बहुत कम ब्याज दर पर ऋण प्रदान रहा है। इसने एनसीडीसी को 600 करोड़ रूपए का ऋण देने के लिए सहमति प्रदान की है। बैंक द्वारा प्रदत्त ऋण छोटे-सीमांत किसानों, महिलाओं व युवाओं की सहायता में एक कदम आगे जाएगा।

कार्यक्रम में कृषि राज्य मंत्री  परषोत्तम रूपाला व  कैलाश चौधरी, सचि‍व श्री संजय अग्रवाल, एनसीडीसी के प्रबंध नि‍देशक  संदीप कुमार नायक, नेशनल को-आपरेटिव यूनियन के अध्यक्ष  दिलीप संघानी तथा डोयशे बैंक, इंडियन चैंबर ऑफ़ कॉमर्स व इंडो-जर्मन चैंबर आफ कामर्स के प्रतिनिधियों ने भी संबोधित किया। 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

*सेक्टर १२२ में लेडीज़ क्लब ने धूमधाम से मनाई - डांडिया नाइट *

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’