14 देशों की 59 फिल्मों की होगी आज आख़िरी दिन ऑनलाइन स्क्रीनिंग

 

 जयपुर 

पिछले चार दिनों से देश दुनिया की फिल्मों का ऑनलाइन जलसा चल रहा हैहजारों दर्शकों ने फिल्मों को एन्जॉय किया. फेस्टीवल के आख़िरी दिन आज 14 देशों की 59 फिल्मों की ऑनलाइन स्क्रीनिंग होगी.

सोमवार को 15 देशों की 46 फिल्मों की होगी ऑनलाइन स्क्रीनिंग हुई. हर फिल्म में एक रोचक कहानी है जिसने दर्शकों को रोमांचित कर ड़ाला.

 

इनमें भारत से फीचर फिक्शन फिल्मों में भारत से ब्लाईंड माईंडएन एसिड अटैक और अटकन चटकन तथा अर्जेंटीना और ब्राजील से द साइलेंट पार्टीईरान से द बेगरऔर यूके से अमरयालीस प्रमुख हैं. वहीं डाक्यूमेंट्री फीचर फिल्मों में पाकिस्तान से सम लवर टू सम बिलवडफ्रांस से जुआनचायना से मज़ीदियाँ और भारत से द वन्डरड साउल ऑफ़ द रन प्रमुख फ़िल्में हैं जिनकी स्क्रीनिंग हुई.

 

 

आज घोषित होंगे अवार्ड्स

जिफ की वेबसाइट पर प्रतियोगिता के लिए 9 श्रेणियों में  अवार्ड्स की घोषणा आज मंगलवार को की जाएगीनौ श्रेणियां है - फीचर फिक्शन,  डॉक्यूमेंट्री फीचरशॉर्ट फिक्शनशॉर्ट डॉक्यूमेंट्रीशॉर्ट एनिमेशनमोबाइल फिल्मवेब सीरीज़ और सॉन्ग और एड फिल्म हैं.

 

आज (Tuesday) की ख़ास फ़िल्में

 

आज की फीचर फिक्शन फिल्मों में भारत से भारत से क्रथीडीप इनसाइड और काली माटी (किसानों की कहानी है)चायना से द हाईलैंड रिफ्लैक्शन और बीईंग मोर्टलअमेरिका से टैंगो शेलमश्रीलंका से सिंगल टम्बलरकनाडा से वी और जर्मनी से रिवायवल है. डाक्यूमेंट्री फीचर्स में स्पेन से टैकिंग रिफ्यूजी और अमेरिका से भारत की कहानी पिंक बेल्ट मिशन प्रमुख फ़िल्में हैं जिनकी स्क्रीनिंग आज होने जा रही है.  

 

राजस्थान से तपन भट्ट  की शतरंज फिल्म की स्क्रीनिंग आज होगी.

 

 

SYNOPSIS

 

Tango Shalom

कुल 116 मिनट की अमेरिका की इस फिल्म का निर्देशन गाब्रिएल बोलोगना ने किया है। इसकी कहानी काफी दिलचस्प है। यह फिल्म परिवार और समुदाय के बंधन और सहनशीलता और विश्वास की सीमा का परीक्षण कराती है.

 

The Highland Reflections

एक युवा लड़की और एक बूढ़े व्यक्ति की कहानी जिसने अलग-अलग कारणों से तिब्बत में मोटरसाइकिल चलाने का फैसला किया और वे आपस में मिलते हैं इसके बाद क्या होता है फिल्म में देखें.

 

Kaali Maati

हमने किसानों की आत्महत्या करने की कहानियों को देखा है और सूना है  लेकिन इस फिल्म की कहानी सभी किसानों को प्रेरित करती  है कि वे जीवन के पाठ्यक्रम को सरासर इच्छाशक्ति और साहस के साथ बदल सकते हैं।

 

कैसे देखे फ़िल्में ?

फिल्मों को देखने के लिए दर्शकों के लिए यूएफओ (UFO) के प्लेक्सिगो (Plexigo) एप को डाउनलोड करना होगा. प्लेक्सिगो एप गूगल प्ले स्टोर या एप्पल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। फ़िल्में देखने के लिए रजिस्ट्रेशन अनिवार्य है।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन