प्राधिकरण क्षेत्र में निवेश के लिए किए गए एमओयू की हुई समीक्षा

निवेशकों की समस्याओं का होगा समाधान : ऋतु माहेश्वरी 


नोएडा। नोएडा प्राधिकरण की मुख्य कार्यपालक अधिकारी ऋतु माहेश्वरी ने नोएडा प्राधिकरण क्षेत्र में किए गए निवेश के लिए किए गए एमओयू की समीक्षा की।


समीक्षा बैठक में मैक्स वेंचर, मेदांता मेडिसिटी, टाटा कंसलटेंसी सर्विसेज, इंफोसिस एवं पेटीएम आदि इकाइयों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। समीक्षा के दौरान गठित एमओयू के सापेक्ष मैक्स वेंचर तथा कैंट आरओ की परियोजना पूर्ण एवं कार्यशील हो चुकी है। टाटा कंसल्टेंसी इंफोसिस के लिए आवंटित भूमि पर भूलेख से संबंधित समस्याओं को भी प्रतिनिधियों ने अवगत कराया। 


बैठक में सीईओ ऋतु माहेश्वरी ने निवेशकों द्वारा उठाई गई सभी समस्याओं के शीघ्र निस्तारण करने का भरोसा दिया। मेदांता मेडिसिटी के प्रकरण में आवंटित भूमि पर समय से परियोजना को कार्यशील न करने के कारण लगाए गए विलंब शुल्क माफ किए जाने तथा मार्च 2021 तक निशुल्क समय दिए जाने की मांग की गई। इस संबंध में सीईओ ने कोविड-19 के दृष्टिगत शासन स्तर से स्वीकृत छूट के संबंध में जानकारी दी। साथ ही सुझाव दिया कि वह 30 सितंबर तक देय धनराशि का बिना दंड ब्याज के भुगतान कर सकते हैं। 


मेदांता मेडिसिटी की ओर से उपस्थित डॉक्टर नरेश त्रेहान को उनके प्रतिनिधियों के माध्यम से प्राधिकरण में अग्रिम कार्रवाई के लिए संपूर्ण दस्तावेज उपलब्ध कराने के लिए भी कहा गया। इस दौरान सभी प्रतिभागियों ने नोएडा प्राधिकरण से मिल रहे सहयोग की सराहना की। बैठक में अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी नेहा शर्मा, विशेष कार्याधिकारी औद्योगिक अविनाश त्रिपाठी, विशेष कार्याधिकारी भूलेख संतोष कुमार उपाध्याय, वरिष्ठ प्रबंधन नियोजन सुधीर कुमार आदि मौजूद रहे।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

*सेक्टर १२२ में लेडीज़ क्लब ने धूमधाम से मनाई - डांडिया नाइट *

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव