कैब चालक की हत्या मामले में पुलिस की लीपापोती पर कांग्रेस हमलावर

योगी सरकार से पीड़ित परिवार को न्याय और मुआवजा देने की मांग


नोएडा। बीते दिनों हत्यारों का शिकार हुए आफताब आलम के परिजनों को न्याया दिलाने के लिए कांगे्रस आगे आई है। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन शाहनवाज आलम और दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी प्रदेश उपाध्यक्ष अली मेहंदी ने योगी सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार से पीड़ित को न्याय और मुआवजा दिलाने की मांग की। 


सेक्टर-29 स्थित मीडिया क्लब में सोमवार को हुई प्रेस कान्फ्रेंस में शाहनवाज आलम ने बताया कि पिछले दिनों आफताब आलम की हत्या कर दी गयी थी। आफताब कैब चालते थे। अपने परिवार के अकेले कमाने वाले थे। 8 अगस्त को उनकी हत्या सिर्फ इसलिए कर दी गयी कि उन्होंने जय श्रीराम का नारा नहीं लगाया। 41 मिनट की कॉल रिकॉर्डिं होने के बावजूद योगी सरकार की पुलिस इसे सामान्य लूटपाट की नीयत से की गई हत्या बताने पर तुली है। जबकि एफआईआर में साफ लिखा है कि कोई लूट नहीं हुई थी। उन्होंने कहा कि वारदात को हुए हफ्ताभर हो गया, लेकिन पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज होने के बावजूद हत्यारे को गिरफ्तार नहीं किया है। 


प्रेस कान्फ्रेंस में मौजूद नोएडा महानगर कांग्रेस के अध्यक्ष शहाबुद्दीन ने ने कहा कि सरकार की प्राथमिकता अपराधियों का दमन और पीड़ितों की मदद होनी चाहिए। लेकिन, योगी सरकार प्रदेश के लोगों को सपने दिखाने में व्यस्त है। उन्होंने मुख्यमंत्री से मांग की है कि पीड़ित को न्याय दिलाने के साथ परिवार को उचित मुवावजा भी दिया जाए। 


इस मौके पर मृतक कैब चालक के बेटे साबिर के अलावा पूर्व महानगर अध्यक्ष मुकेश यादव, महानगर के प्रवक्ता पवन शर्मा, राजेंद्र अवाना, एआईसीसी दिनेश अवाना, जिला युवक कांग्रेस के अध्यक्ष पुरुषोत्तम नागर, अल्पसंख्यक कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष निजाम मलिक, प्रदेश उपाध्यक्ष वसी अहमद रिजवी, पीसीसी लियाकत चौधरी, सतेंद्र शर्मा, अशोक शर्मा, सैफ खान, मोहम्मद गुड्डू आदि मौजूद थे।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन