दंगों के एकतरफ़ा जाँच का आरोप लगाते हुए कम्युनिस्ट दलों ने किया धरना-प्रदर्शन

नई दिल्ली 


आज 3 सितम्बर को भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी व अन्य वामपंथी पार्टियों सीपीआई ऍम,  आर एस पी, फॉरवर्ड ब्लॉक व सीपीआई ऍम एल दिल्ली राज्य में पूरी दिल्ली में विभिन्न स्थानों पर विरोध मानव श्रृंखला, धरना किया .  ये विरोध दिल्ली में गृह मंत्रालय व दिल्ली पुलिस द्वारा उत्तरी पूर्वी दिल्ली में भा ज प द्वारा पूर्व नियोजित दंगों की एकतरफा जाँच व दिल्ली सरकार की चुप्पी के विरोध में किया गया.


इस विरोधी से पहले पिछले 5 दिनों में एक लाख से ज्यादा पर्चे भी बाटे गये. इसमें यह भी मांग की गयी दिल्ली सरकार इन दंगों की स्वंत्रत जाँच समिति बनाये व दिल्ली पुलिस बुद्धिजीवियों, छात्रों व युवकों को एकतरफा जाँच के तहत झूठे केस बनाकर गिरफ्तार करना बंद करें  


इसी विरोध के तहत आज सी पी आई. मुख्यालय अजय भवन के बाहर शारीरिक दूरी के नियम का पालन करते हुए मानव श्रृंखला बनाई गयी. इसका नेतृत्व भा. क. पा महासचिव डी. राजा,प्रोफेसर दिनेश वार्ष्णेय,सचिव,सी पी आई,दिल्ली राज्य परिषद, अजय मालिक, केहर सिंह, अबसार अहमद, विवेक श्रीवास्तव, इकराम कार्यकारिणी सदस्य सी पी आई दिल्ली राज्य.शशि कुमार,यूथ लीडर,बबन कुमार सिंह,संजीव कुमार राणा ,समीर नौशाद,परवेज आलम आदि ने किया. 


अपने संबोधित करने वालो में डी राजा और दिनेश वार्ष्णेय थे इसके अलावा वेस्ट दिल्ली जिला के करमपुरा सीपीआई कार्यालय में कॉम शंकर लाल,जिला सचिव वेस्ट दिल्ली व् कॉम संजीव कुमार राणा,सहायक सचिव के नेतृत्व में उतरी दिल्ली जिला में जहांगीरपुरी,राजस्थानी उधोग नगर व् मंगोलपुरी राजेश कश्यप,बीबी तिवारी ,मुकेश कश्यप आदि ने द्वारा किया गया  


पूरे दिल्ली में एक लाख पम्पलेट वितरण वाम पंथी पार्टियों की तरफ से किया गया.