आईएचजीएफ दिल्ली मेले में दिए गए अजय शंकर मेमोरियल अवार्ड 

वर्चुअल प्लेटफॉर्म पर भी अपने डिस्प्ले स्टैंड को आकर्षक ढंग से सजाने वाले पुरस्कृत 
 
नई दिल्ली। हस्तशिल्प निर्यात संवर्धन परिषद (ईपीसीएच) आईएचजीएफ दिल्ली मेले के हर संस्करण में अजय शंकर मेमोरियल अवार्ड प्रदान करता है। इस अवार्ड के बाबत ईपीसीएच के चेयरमैन रवि के. पासी ने कहा कि अजय शंकर मेमोरियल अवार्ड पूर्व हस्तशिल्प विकास आयुक्त स्वर्गीय अजय शंकर की स्मृति में शुरूकिया गया था। हस्तशिल्प और गिफ्ट मेले को शुरू कराने और उसे स्थापित करने में स्वर्गीय शंकर बड़े प्रेरणास्त्रोत रहे थे। 
 
आईएचजीएफ दिल्ली मेले (वर्चुअल) के 49वें संस्करण में भी इन पुरस्कारों को प्रदान किया गया। मेले के प्रेसीडेंट नीरज खन्ना ने बताया कि ये पुरस्कार उन प्रतिभागियों को दिया गया है, जिन्होंने इस वर्चुअल प्लेटफॉर्म पर भी अपने डिस्प्ले स्टैंड को बेहद आकर्षक ढंग से सजाया, जिससे वर्चुअल मोड पर आयोजित मेले में शिरकत करने वाले ग्राहकों और शिल्पियों दोनों को लाभ हुआ। 
 
ईपीसीएच के महानिदेशक राकेश कुमार ने बताया कि आठ उत्पाद श्रेणियों में गोल्ड, सिल्वर और ब्रॉन्ज तीन कैटेगरी में अवार्ड्स दिए गए। इन श्रेणियों में डेकोरेटिव एंड गिफ्ट, हाउसवेयर टैबल, ग्लास की कलाकृतियों, फर्नीचर, होम फर्निशिंग एंड मेडअप, कालीन-रग्स और फ्लोरिंग्स, लैंप एंड लाइटिंग एसेसरीज, और फैशन ज्वैलरी एंड एसेसरीज शामिल हैं। बाथरूम एसेसरीज, बैग्स एंड एसेसरीज, मोमबत्तियों, अगरबत्तियों और गिफ्ट रैप एंड रिबन्स की श्रेणियों में दो कैटेगरी यानी गोल्ड और सिल्वर के अवार्ड्स दिए गये। राकेश कुमार ने बताया कि तीन महिला उद्यमियों को अवार्ड्स दिए गये। 
 
कार्यकारी निदेशक आरके वर्मा ने बताया कि आईएचजीएफ दिल्ली फेयर के 49वें संस्करण को सफल आयोजन बनाने में जिन एसोसिएट संगठनों ने अपनी भूमिका निभाई, उन्हें भी अवार्ड्स दिए गये। इनमें बाइंग एजेंट्स एसोसिएशन के चेयरमैन विशाल ढींगरा, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी चेन्नई के एसोसिएट प्रोफेसर कौस्तव सेनगुप्ता, रिसर्च एंड डेवलपमेंट एंड टीडीसी हस्तशिल्प विकास आयुक्त कार्यालय, पूर्वोत्तर क्षेत्र, हस्तशिल्प एवं हथकरघा विभाग, जम्मू कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश शामिल हैं।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन