क्या खोया, क्या पाया

(क्या खोया क्या पाया)


पहले वो ख़ुद आते थे 
फिर तार..
फिर चिट्ठि
फिर कार्ड
फिर फ़ोन 
फिर मैसेज
फिर ईमोजी
फिर...


रेसपोंस टाईम तो कम हुआ.
क्या क्या दूर हुआ 
अब जाना मैंने !!!


shashank@LockDown.


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

*सेक्टर १२२ में लेडीज़ क्लब ने धूमधाम से मनाई - डांडिया नाइट *

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव