सांप्रदायिक दलों के साथ खड़े होने वालों की भारतीय जनता पार्टी करती है कड़ी निंदा

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं सांसद (राज्यसभा) श्री जीवीएल नरसिम्हा राव ने बुधवार को पार्टी मुख्यालय में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में राजस्थान के मुख्य मंत्री अशोक गहलोत द्वारा भारत के सम्मानित राष्ट्रपति पर जातिवादी टिप्पणी करने की कड़ी निंदा की। उन्होंने कहा कि राजस्थान के मुख्य मंत्री अशोक गहलोत ने जिस तरह राष्ट्रपति जी के विरुद्ध जातिवादी टिप्पणी की वह संविधान की मर्यादाओं का उल्लंघन है और संविधान की रक्षा करने वाले राष्ट्रपति पर जो कोई हमला करता है उस पर कार्रवाई होनी ही चाहिए। राष्ट्रपति पर ऐसा बयान कांग्रेस नेताओं की दलित विरोधी मानसिकता को दर्शाता है।


श्री राव ने कांग्रेस के खिलाफ बड़ा हमला करते हुए कहा कि राजस्थान के मुख्य मंत्री अशोक गहलोत दरअसल राहुल गांधी की भाषा बोल रहे हैं जो स्वंय तुष्टिकरण की नीति में विश्वास करते हैं। उन्होंने कहा कि राहुल गरीब विरोधी, दलित विरोधी, पिछड़ा विरोधी मानसिकता से ग्रस्त हैं और इसलिए उनकी पार्टी के नेता ओछी टिप्पणी करते रहते हैं। इस क्रम में उन्होंने राष्ट्रपति जी को भी नहीं बख्शा।


नांदेड़ में राहुल गांधी ने अपने भाषण में प्रधान मंत्री के विरुद्ध अभद्र भाषा का आरोप लगाते हुए कहा था कि सभी मोदी चोर हैं। भाजपा राष्ट्रीय प्रवक्ता ने पूछा राहुल गांधी से जानना चाहा कि देश के पिछडे वर्ग से आने वाले प्रधान मंत्री से आपको इतनी जलन क्यों है?  उन्होंने कहा कि ऐसी भाषा बोलकर श्री राहुल गांधी ने यह जता दिया कि उनकी सोच कैसी है। उन्होंने पूछा कि पिछड़े वर्ग से आने वाले प्रधान मंत्री से उन्हें इतनी जलन क्यों है? कांग्रेस और उसके मिलावटी दलों की सोच एक जैसी है और वे दलितों और पिछड़े वर्ग के लोगों से नफरत करते हैं।


इस सिलसिले में उन्होंने कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू तथा बसपा सुप्रीमो मायावती की भी आलोचना की और कहा कि उन दोनों ने ही मुस्लिम वर्ग के लोगों को आकर्षित करने में कोई कसर नहीं छोड़ रखी है। दोनों ही मुसलमानों को एकजुट होने की अपील कर रहे हैं और। श्री राव ने कहा कि दोनों ही नेताओं के बयान लोकतंत्र के लिए खतरा है और उनके खिलाफ चुनाव आयोग को कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए। ये नेता तुष्टिकरण की नीति पर काम कर रहे हैं।


भारतीय जनता पार्टी ने पश्चिम बंगाल की मुख्य मंत्री ममता बनर्जी की निंदा करते हुए कहा कि उन्होने अपनी पार्टी के प्रचार के लिए बांग्लादेश से कलाकार बुलाकर एक संप्रदाय विशेष को आकर्षित करने का प्रयास कर रही है। तुष्टिकरण ममता बनर्जी की राजनीति का हिस्सा रही है।


श्री राव ने कहा कि सबका विकास हमारा और हमारी पार्टी का मूलमंत्र रहा है तथा हम तुष्टिकरण की नीति में विश्वास नहीं करते हैं। इसके विपरीत कांग्रेस के अध्यक्ष वायनाड में जब गये तो उन्होंने मुस्लिम लीग का सहारा लिया और चारों ओर उस पार्टी के ही झंडे लहरा रहे थे। उनके ही पार्टी के नेता सिद्धू पाकिस्तान के गीत गाते हैं। धर्म के आधार पर वोट मांगना कानून मना है। लेकिन कांग्रेस के नेता ऐसा कर रहे हैं। कांग्रेस की यह संस्कृति अब दूसरे दलों में भी फैल गई है।


श्री राव ने कहा कि सांप्रदायिक दलों के साथ खड़े होने वालों की भारतीय जनता पार्टी कड़ी निंदा करती है और चुनाव आयोग से उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग करती है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सुपरटेक टावर के ध्वस्त होने के बाद बढ़ेंगी स्वास्थ्य चुनौतियां, रखें ये सावधानियॉ

गोविंद सदन दिल्ली के संस्थापक बाबा विरसा सिंह के आगमन दिवस पर गुरमत समागम का आयोजन

साई अपार्टमेंट सेक्टर 71 में लगाया गया टीकाकरण शिविर