जलवायु संरक्षण को जन आंदोलन बनाएं: लोक सभा अध्यक्ष


  






प्रधान मंत्री के ‘एक पेड़ मां के नाम’ अभियान के अंतर्गत लोक सभा अध्यक्ष ने इंदौर में पौधारोपण किया

इंदौर/नई दिल्ली : मध्य प्रदेश के एक दिवसीय दौरे पर आए लोक सभा अध्यक्ष, श्री ओम बिरला ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के ‘एक पेड़ माँ के नाम’ अभियान के अंतर्गत इंदौर के बिजासन वन शिविर वृक्षारोपण स्थल पर पौधारोपण किया। इस अवसर पर  श्री बिरला ने कार्बन फुटप्रिंट कम करने की भारत की प्रतिबद्धता और इस संबंध में सरकार द्वारा किए जा रहे उपायों के बारे में बात की । श्री बिरला ने कहा कि वृक्षारोपण ग्लोबल वार्मिंग, वनों की कटाई और पर्यावरण को होने वाले नुकसान को रोकने का सबसे प्रभावी उपाय है । उन्होंने यह भी कहा कि वृक्षारोपण से हमें जलवायु परिवर्तन की समस्या से निपटने और पारिस्थितिक संतुलन बनाए रखने में मदद मिलेगी । श्री बिरला ने आगे कहा कि हमारा लक्ष्य केवल पौधे लगाना ही  नहीं होना चाहिए, बल्कि हमें उन्हें संरक्षित भी करना चाहिए ताकि वे बड़े पेड़ बन सकें। श्री बिरला ने सुझाव दिया कि सरकार द्वारा जियो टैगिंग जैसी तकनीक से पेड़ों की सुरक्षा में बहुत मदद मिलेगी । उन्होंने लोगों से वृक्षारोपण और पेड़ों की सुरक्षा को जन आंदोलन बनाने का आग्रह किया।

वृक्षारोपण के सांस्कृतिक और आध्यात्मिक पहलुओं का उल्लेख करते हुए श्री बिरला ने कहा कि पर्यावरण संरक्षण भारतीय संस्कृति का एक प्रमुख आयाम है और भारत में प्राचीन काल से ही लोगों और प्रकृति के बीच सामंजस्य रहा है । उन्होंने बताया कि  हमारी संस्कृति और परंपराओं से हमें अन्य प्राणियों और प्रकृति के साथ सामंजस्य बनाकर जीवन जीने की सीख मिली है।

जलवायु संरक्षण के क्षेत्र में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा की गई  पहल की सराहना करते हुए श्री बिरला ने कहा कि प्रधानमंत्री के विजन और प्रयासों के फलवरूप लोग एक बेहतर दुनिया और सतत विकास के लक्ष्य की ओर अग्रसर हैं। श्री बिरला ने कहा कि श्री मोदी ने लोगों को सतत आजीविका के मूल्यों का ज्ञान भी दिया है। उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा शुरू किया गया ‘एक पेड़ मां के नाम’ अभियान जलवायु संरक्षण की दिशा में भारत के प्रयासों में उल्लेखनीय कदम होगा। लोक सभा अध्यक्ष ने कहा कि भावी पीढ़ी को जलवायु संरक्षण के प्रति जागरूक बनाया जाना चाहिए ताकि हम सामूहिक रूप से जलवायु संरक्षण की वैश्विक चुनौती का सामना कर सकें। श्री बिरला ने इस बात पर ज़ोर दिया कि जलवायु परिवर्तन की समस्या के निवारण में भारत दुनिया का नेतृत्व कर रहा है और भारत जलवायु संबंधी वैश्विक समस्या का समाधान करेगा ।

पूर्व लोक सभा अध्यक्ष, श्रीमती सुमित्रा महाजन  और मध्य प्रदेश सरकार में मंत्री, श्री कैलाश विजयवर्गीय भी इस कार्यक्रम में शामिल हुए ।

इससे पहले, श्री बिरला ने पितरेश्वर हनुमान मंदिर में दर्शन किए और समाज में शांति और समृद्धि की प्रार्थना की।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

*"आज़ादी के दीवानों के तराने* ’ समूह नृत्य प्रतियोगिता में थिरकन डांस अकादमी ने जीता सर्वोत्तम पुरस्कार

ईश्वर के अनंत आनंद को तलाश रही है हमारी आत्मा

इलेक्ट्रिसिटी (अमेंडमेंट) बिल न लाया जाय और निजीकरण का विफल प्रयोग वापस लिया जाय : ऑल इंडिया पावर इंजीनियर्स फेडरेशन