अर्थिक रूप से कमज़ोर एवं वंचित वर्ग के लिए नवरत्न फाउंडेशन्स ने एक और कंप्यूटर शिक्षण केंद्र सेक्टर 10 में किया प्रारंभ

 

 





सेक्टर 8,9, 10 के स्लम एरिया में पढ़ने वाले बच्चों के लिए खुशखबरी, 

 *सेक्टर 10 में ही नवरत्न फाउंडेशन्स ने किया


अपना 11वां कंप्यूटर शिक्षण केंद्र- पेट्रोनेट दिव्यतरंग कंप्यूटर शिक्षण केंद्र का आज शुभारम्भ .*

नोएडा : सेक्टर 8,9, 10 के स्लम एरिया में पढ़ने वाले बच्चों के लिए खुशखबरी की उनके नज़दीक  सेक्टर 10 में ही *नवरत्न फाउंडेशन्स* ने अपना 11वां कंप्यूटर शिक्षण केंद्र- पेट्रोनेट दिव्यतरंग कंप्यूटर शिक्षण केंद्र का आज शुभारम्भ किया है. दिव्य तरंग ज्ञान शाला, सी -396 सेक्टर 10 की चौथी मंजिल में *15 कंप्यूटर से युक्त यह केंद्र पेट्रोनेट एल एन जी लिमिटेड कंपनी के सी एस आर के तहत ही खोला गया है*. इसमें *दिव्य तरंग एजुकेयर फाउंडेशन* का भी अहम योगदान है.  

इस केंद्र का विधिवत उद्घाटन *पेट्रोनेट के सी एस आर प्रबंधक दिपांजन बंदोपाध्याय * के कर कमलों से हुआ. इस अवसर पर नवरत्न की ट्रस्टी श्रीमती प्रीति श्रीवास्तव, महासचिव ए.वी मुरलीधरन, कुलदीप शर्मा, प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्य डी.के. परसाई, राजेश कात्याल, इन्फोटेक सलूशन के संतोष कुमार, अजय मिश्रा, राकेश यादव, अमितेन्द्र द्विवेदी के साथ दिव्यतरंग के संस्थापक विक्की यादव, ममता अधिकारी एवं नीतू भंडारी, सचिन भी उपस्थित हुए.  

नवरत्न के अध्यक्ष डॉ. अशोक श्रीवास्तव ने 24 घंटे अंदर एक और कंप्यूटर शिक्षण केंद्र को प्रारंभ आर सकने के लिए देश प्रसिद्ध गैस कंपनी पेट्रोनेट एल एन जी लिमिटेड का विशेष धन्यवाद दिया कहा की इस केंद्र से सेक्टर 8,9, 10 में बसे स्लम एरिया के सैकड़ो बच्चों के लिए कंप्यूटर की शिक्षा ग्रहण करने के लिए सीधे सीधे सहायक रहेगा. अभी यहाँ 15 कंप्यूटर लगाये गये हैं, जैसे ही बच्चों के संख्या बढेगी हम और कंप्यूटर का प्रबंध कर देंगे. खासकर महिलाओं के लिए विशेष बैच का प्रबंध किया जायेगा. श्री दिपांजन को उनके द्वारा त्वरित गति से प्रोजेक्ट को लगवाने के लिए विशेष धन्यवाद करते हुए कहा की हमारा प्रयास रहेगा की नवरत्न आपकी अपेक्षाओं पर खरा उतरे. 

मुख्य अतिथि दिपांजन मुखोपाध्याय ने पूरे देश में पेट्रोनेट द्वारा चलाई जा रही अनेक सी एस आर प्रोजेक्ट की विस्तृत जानकारी दी और कहा की पेट्रोनेट ज़मीनी हकीकतों को जानता है और उनकी बुनियादी समस्यों को समझते हुए उनसे जुड़े हुए लोगो का जीवन स्तर उठाने के लिए प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रहा है. इन कार्यों को पूरा करने के लिए नवरत्न जैसे संस्थाओं की ज़रूरत है और हम इसी दिशा में अपना सहयोग प्रदान करते रहेंगे. दिपांजन ने कंप्यूटर सीखने आये वंचित वर्ग के बच्चों से भी काफी वार्तालाप कर उनकी समस्याओं को समझा. 

दिव्यतरंग के संस्थापक विक्की यादव ने सभी का ह्रदय से पेट्रोनेट दिव्यतरंग कंप्यूटर शिक्षा शिक्षण केंद्र को स्थापित करने के लिए धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा की यह केंद्र हम सबके प्रयास से इस बच्चों के जीवन की प्रगति की पहली सीढ़ी बनेगा.



इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

*"आज़ादी के दीवानों के तराने* ’ समूह नृत्य प्रतियोगिता में थिरकन डांस अकादमी ने जीता सर्वोत्तम पुरस्कार

ईश्वर के अनंत आनंद को तलाश रही है हमारी आत्मा

सेक्टर 122 हुआ राममय. दो दिनों से उत्सव का माहौल