प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय, न्यूयॉर्क में सामूहिक योग प्रदर्शन का नेतृत्व


 

21 जून  को दुनिया भर में बड़े पैमाने पर मनाया जाएगा 9वां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस

• उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ मध्य प्रदेश के जबलपुर में सामूहिक योग प्रदर्शन का नेतृत्व करेंगे

New Delhi

केंद्रीय आयुष मंत्री सर्बानंद सोणोवाल ने आज कहा कि अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (आईडीवाई) का आगामी 9वां संस्करण इस साल कई अनोखे कार्यक्रमों का साक्षी बनेगा। इस वर्ष के आईडीवाई का मुख्य आकर्षण यह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय, न्यूयॉर्क में उसी स्थान पर सामूहिक योग प्रदर्शन का नेतृत्व करेंगे, जहां से 9 साल पहले प्रधानमंत्री ने 2014 में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाने का प्रस्ताव दिया था।

मीडिया से बातचीत में सर्बानंद सोणोवाल ने बताया कि आईडीवाई 2023 को मनाने की तैयारी केवल भारत में बल्कि विश्व स्तर पर जोर-शोर से चल रही हैं। भारत में इस वर्ष आईडीवाई का मुख्य कार्यक्रम 21 जून 2023 को मध्य प्रदेश के जबलपुर में होगा।

भारत के उपराष्ट्रपति श्री जगदीप धनखड़ मध्य प्रदेश के राज्यपाल श्री मंगूभाई पटेल, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान, मध्य प्रदेश, केंद्रीय आयुष और बंदरगाह, नौवहन और जलमार्ग मंत्री श्री सर्बानंदा सोनोवालडॉ. वीरेंद्र कुमार, केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री, श्री प्रहलाद सिंह पटेल, केंद्रीय जल शक्ति और खाद्य प्रसंस्करण उद्योग राज्य मंत्री, डॉ. मुंजपरा महेंद्रभाई, आयुष और महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री, श्री फग्गन सिंह कुलस्ते, केंद्रीय इस्पात और ग्रामीण विकास राज्य मंत्री, श्री इंदर सिंह परमार, स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और सामान्य प्रशासन, मध्य प्रदेश सरकार, राम किशोर (नैनो) कावरे, राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) आयुष और जल संसाधन के लिए, मध्य प्रदेश सरकार श्री राकेश सिंह, सांसद, जबलपुर आदि की उपस्थिति में सामूहिक योग प्रदर्शन का नेतृत्व करेंगे।

श्री सोणोवाल ने कहा कि आईडीवाई 2023 के लिए इस वर्ष की थीम "वसुधैव कुटुम्बकम के लिए योग" एक पृथ्वी एक परिवार एक भविष्य का वर्णन करती है।  वसुधैव कुटुम्बकम प्राचीन काल से ही भारतीय विरासत के लिए मार्गदर्शन कराने वाला प्रकाश रहा है और हमारे लोकाचार सामाजिक-सांस्कृतिक ताने-बाने इसके चारों ओर बुने गए हैं। मुझे पूरी उम्मीद है कि योग के अभ्यास के माध्यम से वैश्विक समुदाय विभिन्न मौजूदा स्वास्थ्य चुनौतियों का समाधान खोजने में सक्षम होगा। उन्होंने कहा कि इस साल मार्च में आयुष मंत्रालय द्वारा शुरू किए गए 100 दिनों के काउंटडाउन अभियान ने शहरों में योग को लेकर जागरूकता फैलाने में व्यापक गति हासिल करने में योगदान दिया है।

इस साल अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 'ओशन रिंग ऑफ योगा' जैसे कई अद्वितीय कार्यक्रमों का साक्षी बनेगा, जहां भारतीय नौसेना के जहाजों को दुनिया भर के 9 बंदरगाहों पर तैनात किया जाएगा और कॉमन योगा प्रोटोकॉल (सीवाईपी) के प्रदर्शन में भागीदारी सुनिश्चित की जाएगी। बंदरगाहों, नौवहन और जलमार्ग मंत्रालय भी उन देशों में सीवाईपी प्रदर्शन आयोजित करेगा जिनके साथ उन्होंने एक एमओयू पर हस्ताक्षर किए हैं।

आईडीवाई के 9वें संस्करण की एक और विशेषता है 'आर्कटिक से अंटार्कटिका तक योग', जिसमें विदेश मंत्रालय संयुक्त राष्ट्र सदस्य देशों के अलावा प्राइम मेरिडियन लाइन में आने वाले देशों में सीवाईपी कार्यक्रम आयोजित करने के लिए आयुष मंत्रालय के साथ समन्वय कर रहा है। उत्तरी ध्रुव और दक्षिण ध्रुव क्षेत्रों पर हिमाद्री, स्वालबार्ड, आर्कटिक में भारतीय अनुसंधान केंद्र और भारती-अंटार्कटिका भारतीय अनुसंधान केंद्र में पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के समन्वय में सामूहिक योग कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

'योग भारतमाला' भी विशेष आकर्षणों में से एक है जिसमें भारतीय थल सेना, जल सेना और वायुसेना आईटीबीपी, बीएसएफ के साथ, बीआरओ यूनिसन में योग प्रदर्शन की श्रृंखला बनाएगी। 'योग सागरमाला' भारतीय तट रेखा के पर योगाभ्यास का साक्षी बनेगा। आईएनएस विक्रांत की फ्लाइट डैक पर भी योगाभ्यास किया जाएगा। देशभर के रेलवे नेटवर्क, एयर पोर्ट, पेट्रोल पंप आदि पर आईडीवाई 2023 से संबधित सूचनाओं का प्रसारण किया जाएगा।

इस साल राष्ट्रीय स्तर पर अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाने को लेकर गांव-गांव में सामूहिक योगाभ्यास कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा और "हर आंगन योग" के लक्ष्य को प्राप्त करेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी ग्राम प्रधानों को एक पत्र लिखा है, जो उन्हें अपने निकटतम आंगनवाड़ी, स्वास्थ्य और कल्याण केंद्रों स्कूलों में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस कार्यक्रमों का निरीक्षण करने के लिए अपील करता है। इसके अलावा लगभग 2 लाख आम सेवा केंद्र, राष्ट्रीय आयुष मिशन के तहत आयुष स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र, आयुष ग्रामों अमृत सरोवरों में भी अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को व्यापक स्तर मनाया जाएगा और अधिक से अधिक जनभागीदारी को सुनिश्चित किया जाएग। आयुष मंत्रालय, भारतीय सांस्कृतिक संबंधों (आईसीसीआर) के लिए सहयोग में और विदेश मामलों के मंत्रालय ने माय गॉव (MyGOV.in) मंच पर एक फोटोग्राफी प्रतियोगिता "योग माई प्राइड" की मेजबानी कर रहा है। इसके तहत राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतिभागी तस्वीर के लिए एक कैप्शन एपीटी के साथ "योगसान" करने की एक तस्वीर अपलोड की जा सकती है। राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतिभागियों को तीन श्रेणियों में पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।

कार्य स्थल पर तनाव और थकान को दूर कर ऊर्जावान रहने के लिए आयुष मंत्रालय का एक 'वाई ब्रेक' कार्यक्रम है। इस साल 'वाई-ब्रेक @ वर्कस्पेस'- 'कुर्सी पर योग' प्रस्तुत किया गया है, जो कुर्सी पर बैठकर किया जा सकता है। भारत सरकार के सभी मंत्रालयों / विभागों से अनुरोध किया गया है कि वे अपने कर्मचारियों से कुर्सी पर योग का अभ्यास करने के लिए कहें।

आईडीवाई 2023 'एक सरकार' के दृष्टिकोण के साथ मनाया जा रहा है। भारत सरकार, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय अग्रणी योग संस्थानों संगठनों के सभी प्रमुख मंत्रालय पहले से ही आईडीवाई 2023 की विभिन्न गतिविधियों में भाग ले रहे हैं। इन भारतीय मिशनों और दूतावासों के साथ, संयुक्त राष्ट्र के सदस्य राज्य भी 21 जून 2023 को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के भव्य अवसर पर सामूहिक योगाभ्यास में हिस्सेदारी सुनिश्चित करेंगे

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

*"आज़ादी के दीवानों के तराने* ’ समूह नृत्य प्रतियोगिता में थिरकन डांस अकादमी ने जीता सर्वोत्तम पुरस्कार

सेक्टर 122 हुआ राममय. दो दिनों से उत्सव का माहौल

ईश्वर के अनंत आनंद को तलाश रही है हमारी आत्मा