*नवरत्न फाउंडेशन्स एवं रोबिन हुड आर्मी के सयुंक्त तत्वावधान में आयोजित निशुल्क कोविड वैक्सीनेशन कैंप में 290 हुए लाभान्वित *

 नोएडा 



*भूखे को का पेट भरने* का महत्वपूर्ण मानवीय कार्य करने वाली *रोबिन हुड आर्मी नोएडा* ने *नवरत्न फाउंडेशन्स* के साथ मिलकर सेक्टर 108 के पार्क्स लौरेएटे अपार्टमेंट्स में  *निशुल्क कोविड वैक्सीनेशन कैंप* के माध्यम से स्लम क्षेत्र के आर्थिक रूप से अत्यंत कमज़ोर वर्ग के *290* लोग जैसे दिहाड़ी मजदूर, घरेलू कर्मी, रिक्शा चालक, ठेली वाला इत्यादि को *निशुल्क कोविड वैक्सीन लगा कर बेहतरीन कार्य किया*.

 वैक्सीन लगाने का कार्य नोएडा के *प्रसिद्ध कैलाश हस्पताल* ने बहुत ही सुचारू रूप से किया.

 रोबिन हुड आर्मी के सभी वालंटियर्स का उत्साह देखते बनता था. *सभी पूर्ण प्रतिबद्धता और कर्मठता से कैंप समाप्त होने  तक कार्य करते रहे*

वैक्सीन लगवाने वालों की लाइन बहुत ही लम्बी थी लेकिन व्यवस्था अच्छी होने से समस्या नही हुई. जैसे ही कोई रजिस्ट्रेशन के लिए आता था तो पहले उससे पूछा जाता था कि उसने कुछ खाया है कि नहीं यदि नहीं तो *उनको तुरंत खाने के लिए दिया जाता था और वैक्सीनेशन के बाद भी पैक्ड भोजन भी सबको दिया जा रहा था*. 

रोबिन हुड आर्मी की एक *माकूल सोच* यह थी कि यदि एक परिवार से दो कमाने वाले वैक्सीनेशन के बाद दो तीन दिन के लिए बीमार पड़ सकते हैं और कमाई नहीं हो पायेगी इसलिए *हर परिवार के लिए करीब 15 किलो का सूखा  राशन भी प्रदान किया गया था*. 

निसंदेह नवरत्न, रोबिन हुड आर्मी एवं कैलाश हस्पताल के *बेहतरीन सामंजस्य से कैंप प्रभावी बन गया*.

 रोबिन हुड आर्मी के सुनीता भूटानी जी, डॉ,आरती, गौरव मीत चौधरी , प्रवीण पंवार , स्वस्ति मलिक , नमिता , विकास शर्मा, सौरभ वर्मा, शीना  इत्यादि ने अपनी जिम्मेदारी को बखूभी निभाया. इस कैंप को सफल बनाने में पर नवरत्न फाउंडेशन्स के अध्यक्ष

 अशोक श्रीवास्तव, कार्यकारी महासचिव विवेक श्रीवास्तव तथा कैलाश हस्पताल की पूरी टीम के इंचार्ज श्री रजनीश तिवारी  ने भी अपना  महत्वपूर्ण योगदान दिया. 

*नवरत्न फाउंडेशन्स का यह छठा निशुल्क कोविड वैक्सीनेशन कैंप था और अब तक सभी संस्थाओं के साथ मिलकर नवरत्न आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के करीब 1600 लोगों का वैक्सीनेशन करवा चुका है और यह अभियान अभी जारी है..*..

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन