वसूली के प्रति डीएम ने दिखाई सख्ती, 3 संस्थाओं से 1.54 करोड़ वसूले

जिलाधिकारी सुहास एलवाई के निर्देश पर एसडीएम प्रसून द्विवेदी ने की कार्रवाई

ग्रेटर नोएडा। गौतमबुद्धनगर के जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने राजस्व वसूली के प्रति सख्त रवैया अख्तियार किया है। उन्होंने बड़े बकायेदारों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। उसके बाद एक्शन में आए उप-जिलाधिकारी प्रसून द्विवेदी ने तीन संस्थाओं से एक करोड़ 54 लाख 58 हजार 262 रुपये के राजस्व की वसूली की। उप-जिलाधिकारी प्रसून द्विवेदी ने बताया कि बकाये के लिए ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी और रेरा ने आरसी जारी की थी। 

प्रसून द्विवेदी ने बताया कि मेसर्स अधिम डेवलपर्स प्रा.लि. पर ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण का 62 लाख रुपये, मैसर्स बायावियर लिमिटेड पर 81 लाख 41 हजार 717 रुपये और मेसर्स ग्रेटर नोएडा इंडस्ट्रियल पर 11 लाख 16 हजार 545 रुपये का बकाया था। उन्होंने बताया कि राजस्व वसूली के लिए इन संस्थाओं को कई बार नोटिस दिया गया, लेकिन इनमें से किसी ने भी नोटिस का जवाब नहीं दिया। आखिर, जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई कर वसूली सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उपजिलाधिकारी प्रसून द्विवेदी ने बताया कि वूसल की गई धनराशि में 62 लाख रुपये ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण और 92 लाख 58 हजार 262 रुपये रेरा की वसूली की गई है। 

उन्होंने बताया कि जिलाधिकारी ने जिले के अन्य तहसीलों के अधिकारियों को भी राजस्व वसूली को लेकर गंभीरता के साथ कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। इसके लिए जरूरत पड़ने पर अभियान भी चलाने के भी निर्देश दिए हैं।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन