कोरोना को हराने के लिए अच्छा काम कर रहे अधिकारी : जय प्रताप सिंह

 


- महामारी को मात देने के लिए की जा रही व्यवस्थाओं को देखने नोएडा आए स्वास्थ्य मंत्री


नोएडा। उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने कोविड-19 के संबंध में जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग और पुलिस द्वारा संयुक्त रूप से की जा रही कार्रवाई पर संतोष जाहिर किया। उन्होंने आगे भी इसी प्रकार टीम भावना के साथ कार्य करने और कोरोना वायरस के संक्रमण से नागरिकों को सुरक्षित रखने के निर्देश दिए।


स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने सेक्टर 59 में बनाए गए एकीकृत कंट्रोल रूम में मीडियाकर्मियों से बातचीत के दौरान बताया कि उन्होंने जिलाधिकारी, स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों और चिकित्सकों के साथ कोविड-19 के मद्देनजर गहन समीक्षा बैठक की। उन्होंने कहा कि महामारी को मात देने के लिए गौतमबुद्ध नगर जिला प्रशासन, पुलिस और स्वास्थ्य विभाग अन्य विभागीय अधिकारियों के साथ मिलकर अच्छा काम कर रहे हैं। उसके सकारात्मक परिणाम नजर आ रहे हैं। जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कोविड-19 की जांच गंभीरता से कर रहे हैं। इससे पूर्व गौतमबुद्ध नगर के नागरिकों को कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित रखने और संक्रमित व्यक्तियों को निर्धारित समय पर प्रोटोकॉल के अनुरूप इलाज उपलब्ध कराने के मकसद से उत्तर प्रदेश सरकार के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह बुधवार को यहां आए थे। भ्रमण के दौरान उन्होंने सेक्टर 39 में संचालित कोविड अस्पताल का निरीक्षण किया और वहां भर्ती मरीजों के साथ बातचीत कर उनका हाल जाना। उन्होंने मिल रही सुविधाओं की जानकारी मरीजों से ली। स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने सेक्टर 59 में बनाए गए एकीकृत कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया। वहां होम आइसोलेशन के मरीजों से बातचीत की।


मरीजों ने मंत्री को स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन की व्यवस्थाओं पर संतोष जताया। बैठक में जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने पेट्रोल मद में बजट के संबंध में स्वास्थ्य मंत्री को जानकारी उपलब्ध कराई गई। मंत्री ने शासन स्तर से पेट्रोल मद में प्राथमिकता के आधार पर बजट अवमुक्त करने का भरोसा दिया। बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. दीपक ओहरी, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. रेनू अग्रवाल, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी नेपाल सिंह, सुनील दोहरे और स्वास्थ्य विभाग के अन्य अधिकारी मौजूद थे।