देशव्यापी हड़ताल के तहत ट्रेड यूनियनों ने निकाला जुलूस, जगह-जगह प्रदर्शन

 श्रमिक नेताओं ने मजदूरों को दी सरकार की जनविरोधी नीतियों की जानकारी


नोएडा। सरकार की मजदूर-किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ ट्रेड यूनियनों के संयुक्त आह्वान पर देशव्यापी हड़ताल के तहत गुरुवार को श्रमिक संगठनों ने जगह-जगह जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया। श्रमिक संगठनों की हड़ताल के मद्देनजर पुलिस प्रशासन चौकन्ना रहा। किसी अप्रिय घटना को रोकने के लिए जगह-जगह पुलिस बल को तैनात किया गया था। सीआईटीयू (सीटू) के जिलाध्यक्ष गंगेश्वर दत्त शर्मा के नेतृत्व में श्रमिक सुबह सेक्टर-9 व 10 स्थित बांस बल्ली मार्केट में जमा हुए। श्रमिकों ने यहां सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और श्रम कानूनों में बदलाव की मांग की। प्रदर्शन के बाद श्रमिकों की टोली विभिन्न औद्योगिक सेक्टरों में घूम-घूमकर श्रमिकों से हड़ताल में शामिल होने की अपील की। हिंद मजदूर सभा के महासचिव आरपी सिंह चौहान के नेतृत्व में श्रमिक सेक्टर-5 स्थित एसएमएस कार्यालय पर एकत्रित हुए। वहां से श्रमिक सेक्टर-2, 3, 4, 5, 9 और 10 के औद्योगिक क्षेत्रों में घूम-घूमकर श्रमिकों को सरकार की जनविरोधी नीतियों के बारे में जानकारी दी और हड़ताल में शामिल होने का आह्वान किया। खोड़ा लेबर चौक पर सीटू नेता विनोद और हिंद मजदूर सभा के नेता ललित शर्मा के नेतृत्व में श्रमिकों ने प्रदर्शन किया।


सीटू नेता भरत डेंजर के नेतृत्व में श्रमिकों ने सेक्टर-11 में प्रदर्शन कर श्रम कानूनों को लागू किए जाने की मांग की। सीटू नेता राम स्वार्थ और एक्टू नेता राम मिलन के नेतृत्व में श्रमिकों ने भंगेल में प्रदर्शन किया। सीटू नेता मुकेश रावत के नेतृत्व में ग्रेटर नोएडा स्थित एलजी चौक तथा रंजीत कुमार के नेतृत्व में ईकोटेक-3 क्षेत्र में प्रदर्शन किया। सीटू नेता नरेंद्र पांडे के नेतृत्व में श्रमिकों ने चक-शाहबेरी में सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन किया।