योगी सरकार व पुलिस द्वारा न्याय की बजाय ध्यान भटकाने की साजिश के विरोध में वामपंथी पार्टियों का विरोध प्रदर्शन

  दिल्ली


राज्य वामपंथी पार्टियों ने जंतर मंतर पे हाथरस, उत्तरप्रदेश में दलित लड़की के साथ बलात्कार व हत्या के खिलाफ व उत्तरप्रदेश की किया ।


इस प्रदर्शन को सम्बोधित करने वालों में शामिल थे कॉम डी राजा,भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ,महासचिव, बिनोय विस्वम, सांसद व सी पी आई राष्ट्रीय सचिव,प्रोफेसर दिनेश वार्ष्णेय, सचिव सी पी आई दिल्ली राज्य,के ऍम तिवारी,सचिव सीपीआई ऍम दिल्ली राज्य, सुचेता डे, सीपीआईऍमएल व संतोष सीजीपीआई ।


कॉम डी राजा ने अपने सम्बोधन में योगी सरकार की निंदा की व कहा की उत्तरप्रदेश की सरकार पीड़ित परिवार को न्याय की बजाय आरोपित कर रही हैं । हमारी मांग हैं की इस मामले में योगी सरकार की किसी भी जाँच पे विस्वास नहीं किया जा सकता अतः सर्वोच्च न्यायालय की निगरानी में जाँच हो व सभी आरोपियों को तुरंत सजा दी जाय । बिनोय विस्वाम सांसद ने कहा की मोदी -योगी राज् में ये वो भारत नहीं हैं जिसकी स्वंत्रता के लिये हम लड़े. हर जनवादी अधिकारों को फ़ासीवादी नीतियों के तहत हमले किये जा रहे हैं । पीड़ित परिवार पे योगी प्रसाशन रोज़ हमलें कर रही हैं ।


इस प्रदर्शन में अजय मलिक,सीपीआई दिल्ली राज्य कार्यकारिणी मेम्बर ,केहर सिंह,अबसार अहमद,शंकर लाल,विवेक श्रीवास्तव,मो इकराम,जिला सचिव व् सीपीआई दिल्ली राज्य कार्यकारिणी सदस्य, राज कुमार,सह सचिव,उतरी पूर्वी दिल्ली जिला,संजीव कुमार राणा,सह सचिव,उतरी दिल्ली जिला,शशि कुमार,सचिव ,दिल्ली राज्य आल इंडिया यूथ फेडरेशन, दिल्ली राज्य कार्यकारिणी सदस्य, रिहाना बेगम सीपीआई राज्य परिषद् मेम्बर ,बबन कुमार सिंह ,सीपीआई दिल्ली राज्य परिषद् मेम्बर आदि मौजूद थे ।


इस प्रदर्शन ने दिल्ली में सभी वामपंथी पार्टियों की इकाइयों से आवाहन किया की गली मोहल्लों में इस न्याय के संघर्ष को आगे लें जाये ।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

*सेक्टर १२२ में लेडीज़ क्लब ने धूमधाम से मनाई - डांडिया नाइट *

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव