सांप्रदायिक दंगों की एफ आई आर में नेत्री एनी राजा के नाम आने पर भड़के भाकपाइ

नई दिल्ली 


भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी दिल्ली राज्य परिषद दिल्ली पुलिस द्वारा उतर पूर्वी दिल्ली में हुए सांप्रदायिक दंगों की एफ आई आर में भा क पा नेत्री एनी राजा,जो की भारतीय महिला फेडरेशन की महासचिव है, का नाम आरोपित में डालने की सख्त निंदा करती है.


इतना ही नहीं इसी एफ आई आर में कॉमरेड बृंदा करात, सी पी ऍम पोलितब्यूरो सदस्य, कामरेड कविता कृषणन, पोलितब्यूरो सदस्य सी पी आई ऍम एल, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व भारत के भूतपूर्व कानून मंत्री, वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण, योगेंद्र यादव, हर्ष मंदर, अंजलि भारद्वाज, प्रोफेसर अपूर्वानंद, सबा दीवान, राहुल रॉय का भी नाम शामिल किया हैं. यह बहुत ही शर्म की बात है की बीजेपी नेता जिन्होंने भड़काऊ भाषण दिये उनको बचाने के लिये सब किया जा रहा है.


इससे पहले कॉमरेड सीताराम येचुरी जो की सी पी ऍम महासचिव है व भूतपूर्व सांसद भी है उनका नाम भी शामिल किया गया था. दिल्ली पुलिस सीधे भारत सरकार के गृह मत्रालय के अंदर आती है. यह सभी नेता देश में मानव अधिकारों व सामाजिक न्याय के सिंद्धांतो के संघर्ष में प्रखर हैं व दिल्ली पुलिस सरकारी इशारों पे अब हर उन नेताओं, छात्रों, नौजवानों को या तो गिरफ्तार कर रही है या फिर उनपर आपराधिक मामले बना रही हैं जिन्होंने सी ए ए व एन आर सी के खिलाफ आंदोलन को समर्थन दिया था जबकि वास्तविक गुनहगारो को बचा रही है.