मोदी का जन्मदिन बनाम बेरोजगार दिवस, सपा ने पकौड़े तलकर विरोध जताया

लॉकडाउन में छिन गया 12 करोड़ लोगों का रोजगार : राघवेंद्र दुबे


नोएडा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन को समाजवादी पार्टी ने राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस के रूप में मनाया। समाजवादी पार्टी युवजन सभा नोएडा ग्रामीण के संयोजन में कार्यकर्ताओं ने सेक्टर 31 स्थित निठारी गांव में पकौड़े तलकर अपना विरोध दर्ज कराया। कार्यकर्ताओं ने पकौड़े तलकर लोगों को बांटे। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने मोदी और योगी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। युवा विरोधी यह सरकार नहीं चलेगी नहीं चलेगी, युवाओं को रोजगार दो रोजगार दो जैसे तमाम नारे लगाए और बेरोजगारी लिखे नारों के पोस्टर लहराए।


सपा के पूर्व जिला प्रवक्ता राघवेंद्र दुबे ने कहा कि देश में युवा बेरोजगारी का दंश झेल रहा है। जिनके पास रोजगार था, उनका भी छिन गया। सेंटर फॉर इंडियन इकोनॉमी के आंकड़ों के अनुसार लॉकडाउन लगने के एक महीने के अंदर ही 12 करोड़ लोगों की नौकरी चली गई थीं। मौजूदा वित्त वर्ष की पहली तिमाही में जीडीपी माइनस 23.9 फीसदी हो गई। दो करोड़ रोजगार प्रति वर्ष देने का वादा करने वाली मोदी सरकार अपने पूरे पांच वर्ष के कार्यकाल में एक करोड़ भी रोजगार नहीं दे पाई। 


उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने कहा था कि पकौड़ा तलना भी रोजगार है। इसलिए सपा कार्यकर्ताओं ने उनके जन्मदिन पर पकौड़े तले हैं। उन्होंने कहा कि युवाओं को रोजगार न देने वाली मोदी सरकार को सत्ता में बने रहने का कोई हक नहीं है। नोएडा में कोरोना से अब तक 48 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि अवसाद और बेरोजगारी से तंग लगभग 150 लोगों ने आत्महत्या कर ली है।


युवजन सभा के अध्यक्ष अनिल पंडित ने कहा कि नौजवानों की पीड़ा को सरकार नहीं समझ पा रही है। युवा रोजगार मांग रहा है और सरकार उनको हिन्दू मुस्लिम और मन्दिर मस्जिद के मुद्दों पर भ्रमित कर रही है। अब युवा अपना अधिकार लेकर रहेगा। 


इस अवसर पर यूथ ब्रिगेड के पूर्व अध्यक्ष डॉ. आश्रय गुप्ता, देवेंद्र अवाना, मोनू खारी, हीरालाल यादव, देवेंद्र गुर्जर, नरेंद्र शर्मा, अर्जुन प्रजापति, नवीन भाटी, सुभाष भाटी, मुन्नीलाल बघेल, मुकेश प्रधान, ललित यादव आदि मौजूद रहे।