हाथरस की बेटी को न्याय के लिए प्रदर्शन कर रहे 14 कांग्रेसी हिरासत में

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का फर्जी नारा देने वालों की सरकार में बेटियों पर ज्यादा अत्याचार : ओमबीर यादव


नोएडा। हाथरस की बिटिया को न्याय दिलाने के लिए बुधवार को कांग्रेस के कार्यकर्ता सड़क पर उतरे और सेक्टर-15 में सड़क जाम कर प्रदर्शन किया। इस दौरान पार्टी नेताओं और पुलिस के बीच धक्का-मुक्की भी हुई। बाद में पुलिस ने युवक कांग्रेस के पश्चिमी उत्तर प्रदेश अध्यक्ष ओमबीर यादव, राष्ट्रीय सचिव हेमंत ओगले, युवक कांग्रेस के जिलाध्यक्ष पुरुषोत्तम नागर, किसान कांग्रेस के जिलाध्यक्ष गौतम अवाना, महानगर उपाध्यक्ष ललित अवाना और सनी नागर सहित 14 कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया। 


हाथरस में एक दलित किशोरी के साथ दुष्कर्म और फिर जघन्य तरीके से उसकी हत्या से पूरा देश गुस्से में है। बुधवार को यहां पश्चिम युवक कांग्रेस के अध्यक्ष ओमवीर यादव और युवक कांग्रेस के जिलाध्यक्ष पुरुषोत्तम नागर के नेतृत्व में हाथरस की बेटी को न्याय दिलाने के लिए कार्यकर्ता सड़क पर उतरे। उन्होंने सेक्टर-15 में रोड जाम कर प्रदर्शन किया। इस दौरान ओमवीर यादव ने कहा कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का फर्जी नारा देने वालों की सरकार में बेटियों पर सबसे ज्यादा अत्याचार हो रहा है। हाथरस की बेटी के साथ दुष्कर्म करने वाले दोषियों के साथ ही योगी सरकार की पुलिस भी दोषी है। पुलिस ने रात दो बजे हिन्दू रीति-रिवाजों से हटकर पेट्रोल डालकर शव को जला दिया।


 युवक कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव हेमंत ओगले ने कहा कि हिन्दू मुस्लिम की बात करके युवाओं को भटकाने का भाजपा का नाटक अब नहीं चलेगा। युवक कांग्रेस के जिलाध्यक्ष पुरुषोत्तम नागर ने कहा कि आज उत्तर प्रदेश अपराध प्रदेश बन चुका है। प्रदेश में बेटियां सुरक्षित नहीं हैं। किसान कांग्रेस के जिलाध्यक्ष गौतम अवाना ने कहा कि तानाशाही सरकार के खिलाफ कांग्रेस का एक एक कार्यकर्ता आंदोलन करता रहेगा। महानगर उपाध्यक्ष ललित अवाना ने कहा कि हाथरस की बेटी को न्याय मिलने तक संघर्ष जारी रहेगा।  


इस अवसर पर कांग्रेस के महानगर अध्यक्ष सहाबुद्दीन, प्रदेश सचिव सनी नागर, महानगर महासचिव अशोक शर्मा, पीसीसी सतेंदर शर्मा, लियाकत चौधरी, अकबर चौधरी, यतेन्द्र शर्मा, विक्रम चौधरी, दयाशंकर पांडे, मथुरा प्रसाद, अनुज चौधरी और जावेद खान आदि मौजूद थे।