दूसरे दिन भी जारी रही सफाईकर्मियों की भूख हड़ताल

 नौकरी से निकालने का नोटिस मिलने पर एक सफाईकर्मी ने की आत्महत्या : पारचा


नोएडा। नोएडा प्राधिकरण द्वारा 12 सफाई कर्मचारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के विरोध में सफाईकर्मियों की भूख हड़ताल गुरुवार को दूसरे दिन भी जारी रही। सेक्टर-6 स्थित नोएडा प्राधिकरण कार्यालय के बाहर अनशन पर बैठे सफाई कर्मचारियों का कहना था कि जब तक उनकी मांगे नहीं मानी जाएंगी, तब तक भूख हड़ताल जारी रहेगी।


  भूख हड़ताल पर बैठे अखिल भारतीय सफाई मजदूर कांग्रेस के नोएडा शाखा के अध्यक्ष बबलू पारचा ने बताया कि प्राधिकरण दमनकारी नीति अपना रहा है। हड़ताल पर जाने वाले सफाई कर्मचारियों को नौकरी से निकालने का नोटिस दिया जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि बुधवार को अनिल नामक सफाईकर्मी को नौकरी से निकाले जाने का नोटिस मिला। उसके बाद उसने रात आत्महत्या कर ली। उन्होंने कहा कि प्राधिकरण जब तक सफाई कर्मचारियों पर दर्ज मुकदमे और एप द्वारा कार्यस्थल की लोकेशन के फरमान को वापस नहीं लेता है, तब तक भूख हड़ताल जारी रहेगी। 


अनशन के दूसरे दिन बबलू पारचा के साथ संजय धीमान व सुमित्रा चौहान भी भूख हड़ताल पर बैठे रहे। इस अवसर पर जय प्रकाश पाठक, रवि गहलोत, सुनील, सचिन जीनवाल, संजय गहलोत, सोनू धीमान, दिनेश वाल्मीकि आदि मौजूद थे।