बड़े बकायेदारों पर शिकंजा कसेगा नोएडा प्राधिकरण, नोटिस देने की तैयारी

समीक्षा बैठक में सीईओ ने अधिकारियों को दिए निर्देश


नोएडा। नोएडा प्राधिकरण की मुख्य कार्यपालक अधिकारी ऋतु माहेश्वरी ने पीआईएमएस के माध्यम से प्राधिकरण के विभिन्न विभागों (औद्योगिक, आवासीय, भवन, वाणिज्य, ग्रुप हाउसिंग एवं संबंधित लेखा विभाग) के अफसरों के साथ बैठक की। इसमें प्रतिदिन प्राप्त होने वाले आवेदनों का समय से निस्तारण तथा प्राधिकरण क्षेत्र में आवंटित रिक्त भूखंडों की स्थिति की समीक्षा की गई। सीईओ ने बड़े बकायेदारों पर शिकंजा कसने और उन्हें अंतिम नोटिस भेजने के निर्देश दिए। 


सीईओ ने अफसरों से कहा कि परिसंपत्ति सॉफ्टवेयर (पीआईएमएस) के माध्यम से प्रदत्त सेवाओं के निस्तारण प्रक्रिया संबंधी समस्याओं के कारण प्रकरण लंबित रहते हैं। उन्होंने इस प्रकार के सभी प्रकरणों को सूचीबद्ध करने और अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी स्तर पर संयुक्त प्रस्ताव बनाकर नई प्रक्रिया का निर्धारण करने के निर्देश दिए। उन्होंने पीआईएमएस पर प्रार्थना पत्र अपलोड करने तथा उनके विभागीय निस्तारण में सॉफ्टवेयर स्तर पर आने वाली कठिनाइयों को संबंधित कार्यदायी संस्था से संपर्क कर एक सप्ताह के भीतर निस्तारण करने के निर्देश दिए। 


बैठक में सीईओ ने प्राधिकरण के जल विभाग द्वारा जारी किए जाने वाले अदेयता प्रमाण पत्र प्राप्त किए किए जाने की प्रक्रिया को ऑनलाइन करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने आवंटित भूखंडों पर वर्षों बाद भी निर्माण न करने वालों को अंतिम नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। इसके अलावा बड़े बकायेदारों को नोटिस देने और अतिदेय धनराशि जमा कराने के निर्देश दिए।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन