महिला आयोग द्वारा रिया टिप्पणी शिकायत लेने से मना, आपत्ति दर्ज  

लखनऊ 


राष्ट्रीय महिला आयोग ने सुशांत सिंह केस में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय द्वारा अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती के संबंध में की गयी व्यक्तिगत टिप्पणी विषयक लखनऊ स्थित एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर की शिकायत को पंजीकृत करने से मना कर दिया.  


नूतन ने शिकायत में कहा था कि श्री पाण्डेय ने सुश्री रिया के लिए कहा कि उनकी बिहार के मुख्यमंत्री पर कमेन्ट करने की औकात नहीं है. उनके द्वारा एक महिला पर की गयी यह टिप्पणी स्पष्टतया अनुचित एवं आपत्तिजनक है. यह भी स्पष्ट है कि यह टिप्पणी उनके आधिकारिक दायित्व में नहीं आता है और एक शासकीय पद पर बैठा आदमी सरकारी वर्दी में इस प्रकार की व्यक्तिगत टिप्पणियां नहीं कर सकता है.


नूतन ने इसे अनुचित, आपत्तिजनक तथा अपमानजनक बताते हुए कार्यवाही की मांग की थी.


महिला आयोग द्वारा उन्हें भेजे पत्र में कहा गया कि प्रकरण कोर्ट के सामने विचाराधीन है, अतः आयोग द्वारा इस पर कार्यवाही नहीं की जा सकती है.


नूतन ने इस आदेश को त्रुटिपूर्ण बताते हुए कहा है कि श्री पाण्डेय द्वारा सुश्री रिया के संबंध में की गयी टिप्पणी कोर्ट के सामने विचाराधीन नहीं है, अतः इस शिकायत को अस्वीकृत करना सही नहीं है.


अतः उन्होंने दुबारा शिकायत देते हुए आयोग को इस गंभीर मामले को संज्ञान में लेने का अनुरोध किया है.