गंदगी और बदबूदार माहौल में जीने को मजबूर हैं सेक्टर 92 वासी

नोएडा


सेक्टर 92 नोएडा के साथ एक बड़ा सिचाई नाला बहता है  जिससे बहुत ज्यादा बदबू एवं गंदी गैस के रिसाव होने से पूरे सेक्टर के निवासियों को बहुत ही असहनीय स्थिति में रहना पड़ता है । साथ ही सेक्टर 92 निवासियों के घरों में इन गंदी गैस की बजह से ऐसी फ्रिज आदि भी बहुत ही जल्दी जल्दी खराब होते हैं । 


इस संबंध में आज नोएडा प्राधिकरण के उप प्रबंधक स्वास्थ्य  एस सी मिश्रा  एवं उनकी टीम द्वारा इस नाले का मौका मुयायना किया गया एवं पाया गया कि इस बड़े नाले मे कुछ नालो से अस्वच्छ सीवेज वाटर सीधा डाला जा रहा है जिससे की ऐसी स्थिति बन रही है। इसके आसपास की सोसाईटीज का डिसचार्ज चैक किया जायेगा एवं यदि किसी सोसाईटी द्वारा अनट्रीटिड सीवेज वाटर सीधा बड़े नाले मे बहाया जा रहा है तो उन्हें ठीक कराया जायेगा।


इस संबंध में सेक्टर 92 से  सुशील कुमार जैन ने मौके पर प्राधिकरण की टीम एवं  एस सी मिश्रा  उप प्रबंधक स्वास्थ्य को आदि को वस्तुस्थिति से अवगत कराया एवं इस नाले को कवर करने की मांग रखी। जिस पर प्राधिकरण टीम द्वारा एन जी टी के आदेश में नालों को कवर न करने के बारे में बताया। इस पर  सुशील कुमार जैन ने कहा कि जैसा शाहदरा नाला जो कि दिल्ली से नोएडा मे आता है उस नाले को दिल्ली क्षेत्र मे बहुत ही सही तरीके से नाले के बीच मे एक कवर्ड ड्रेन बनाकर बीच से नाले के पानी को आगे बहाया जाता है जिससे कि पूरा नाला खुला भी रहता है जिसमे बरसाती पानी ज्यादा होने की स्थिति मे उपर से बहता है और रोजमर्रा का नाले का पानी कवर्ड ड्रेन से आगे जाता है ।इस तरहा का इंतजाम यहां भी होना चाहिये। इस पर बताया गया कि प्राधिकरण की टीम शाहदरा नाले का निरीक्षण कर इस पर विचार करेगी।


साथ ही  सुशील कुमार जैन ने प्राधिकरण के उप प्रबंधक मिश्रा को सेक्टर 83 मैट्रो स्टेशन पर भी निरीक्षण कराते हुये मांग उठायी गयी कि सेक्टर 83 मैट्रो स्टेशन से एक फुट ओवर ब्रिज सेक्टर 92 तक बनाया जाय जिससे कि सेक्टर 83 मैट्रो स्टेशन के पास सेक्टर 92 , 93बी, 93ए एक्सप्रेस व्यू सिल्वर सिटी एटीह आदि सोसायीटी के निवासियों को सुविधा मिलेगी। 


सुशील कुमार जैन ने कहा कि इस स्टेशन से फुट ओवर ब्रिज बनने से इसके आस पास रह रही 10000 से ज्यादा परिवार को सुविधा मिलेगी। 


इस पर प्राधिकरण की टीम ने कहा कि इस प्रस्ताव पर उच्च अधिकारी के साथ विचार विमर्श किया जायेगा।