पेट्रोल-डीजल की महंगाई पर प्रदर्शन, कांग्रेसियों ने बाइक, सिलेंडर को फांसी लगाई 

पांच हफ्ते में पेट्रोल 24 और डीजल के दाम 21 बार बढ़ाए : नागर


नोएडा। कुकिंग गैस, पेट्रोल और डीजल के दाम में बेतहाशा वृद्धि के खिलाफ युवा कांग्रेस ने मोरना में प्रदर्शन किया। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने बाइक और गैस सिलेंडर को फांसी लगाकर अपना विरोध दर्ज कराया। प्रदर्शनकारियों ने सरकार से अतिशीघ्र मूल्यों में बढ़ोत्तरी वापस लेने की मांग की। इस दौरान कार्यकताओं ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। 


युवा कांग्रेस के जिलाध्यक्ष पुरुषोत्तम नागर ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में भारी गिरावट के बावजूद केंद्र की भाजपा सरकार ने पिछले पांच  सप्ताह में पेट्रोल के दाम 24 बार व डीजल के दाम 21 बार बढ़ाए हैं। आम आदमी आर्थिक रूप से बेहद परेशान है। उसके पास जीविका का साधन नहीं है। वहीं सरकार कोरोना संकट में भी कीमतों में लगातार वृद्धि कर रही है। 


महानगर अध्यक्ष शहाबुद्दीन ने कहा कि सरकार ने पिछले 30 दिनों  में देशवासियों की जेब से 1,60,000 करोड़ रुपाये की कमाई की है। देश में पहली बार डीजल, पेट्रोल के दाम से आगे निकल गया है। इससे महंगाई चरम पर है। 


युवा कांग्रेस के प्रदेश सचिव ललित अवाना ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतें रिकॉर्ड गिरावट पर है। दुनिया के बाकी देश कोरोना काल में आर्थिक संकट झेल रहे पब्लिक को डीजल-पेट्रोल सस्ती दर पर दे रहे हैं। वहीं भाजपा सरकार उच्चतम रेट का रिकॉर्ड बना रही है। किसान कांग्रेस के अध्यक्ष गौतम अवाना ने कहा कि अब खेतों में बुआई का समय है। मजदूर मिल नहीं रहे हैं। डीजल के बढ़े दाम ने तो किसानों की कमर ही तोड़कर रख दी है।  प्रदेश कांग्रेस सदस्य अशोक शर्मा मोरना ने कहा कि अगर बढ़ी कीमत वापस नहीं हुई तो पार्टी कार्यकर्ता सड़क से सदन तक विरोध करेंगे।


इस अवसर पर सचिव रिजवान चैधरी  राहुल नागर, लाला नागर, बेगराज धामा, सूरज बीडीसी, प्रवीण अवाना, विक्की अवाना, सोनू अवाना और नीरज तंवर आदि मौजूद रहे।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन