कोविड-19 के चुनौतीपूर्ण समय में भी आरसीएफ ने कृषक समुदाय को सुनिश्चित की उर्वरकों की उपलब्धता


आरसीएफ ने खरीफ मौसम के लिए दो लाख एमटी से अधिक आयातित उर्वरक उपलब्ध कराया है
 Delhi



http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/WhatsAppImage2020-07-01at16.01.231J79.jpeg


रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय के तहत एक सीपीएसई, राष्ट्रीय कैमिकल्स एंड फर्टिलाइजर्स लिमिटेड (आरसीएफ) भारत के कृषक समुदाय के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है। कोविड-19 के चुनौतीपूर्ण समय में भी आरसीएफ ने कृषक समुदाय को खरीफ बुवाई सीजन के लिए उज्जवलायूरिया एवं सुफलाउर्वरकों की उपलब्धता सुनिश्चित की है।


http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/WhatsAppImage2020-07-01at16.01.231J79.jpeg


आरसीएफ के संयंत्र प्रचालनगत रहे हैं और पर्याप्त मात्रा में इसके उर्वरकों का उत्पादन किया गया। इसके विनिर्मित उर्वरकों के अतिरिक्त, आरसीएफ ने देश में वर्तमान खरीफ मौसम के लिए किसानों को दो लाख एमटी से अधिक ट्रेडेड कांप्लेक्स उर्वरक अर्थात डीएपी, एपीएस (20 : 20 :0 : 13) तथा एनपीके (10 : 26 : 26) उपलब्ध कराया है।


यह भी उल्लेखनीय है कि आरसीएफ ने नवीनतम प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार भारत की शीर्ष 500 इंडिया फौरचुन कंपनियों में अपनी रैंकिंग 2018 के 191 से सुधार कर 2019 में 155 कर ली है।


आरसीएफ के सीएमडी एस सी मुदगेरिकर ने कहा कि उपरोक्त उपलब्धियां आरसीएफ कर्मचारियों द्वारा सर्वाधिक चुनौतीपूर्ण समय में की गई कड़ी मेहनत और उर्वरक विभाग की समस्त टीम द्वारा सतत रूप से प्राप्त दिशानिर्देश एवं प्रोत्साहन तथा पूरी सहायता के कारण संभव हो पाई।


 


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

*सेक्टर १२२ में लेडीज़ क्लब ने धूमधाम से मनाई - डांडिया नाइट *

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’