तालियों की गड़गड़ाहट के बीच 12 कोरोना संक्रमितों को अस्पताल से दी गई छुट्टी

  घर जाते समय मरीजों कहा, धन्यवाद


ग्रेटर नोएडा। गौतमबुद्ध नगर जिले में बेशक कोरोना वायरस से संक्रमित होने वालों का आंकड़ा बढ़ रहा है, लेकिन इस महामारी से जंग जीतने वालों की संख्या में भी तेजी से इजाफा हो रहा है। ग्रेटर नोएडा स्थित कैलाश हॉस्पिटल के डॉक्टरों के बेहतरीन इलाज की बदौलत कोरोना संक्रमित 12 मरीजों ने कोरोना को परास्त कर दिया। गुरुवार को उन्हें तालियों की गड़गड़ाहट के बीच अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। फिलहाल वे अपने घर में 14 दिनों तक क्वारंटाइन में रहेंगे। 


कैलाश हॉस्पिटल कोरोना आईसोलेशन सेंटर के नोडल अधिकारी डॉ. उमा शंकर शर्मा ने बताया कि उनके हॉस्पिटल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती 12 कोरोना संक्रमित मरीजों को स्वस्थ होने के बाद छुट्टी दे दी गई। जिन लोगों ने कोविड को हराया, उनमें फोर्टिस हॉस्पिटल के डॉ. अजय कुमार, अनुपम मिश्रा, अमित राजपूत, पंकज कुमार पटेल, रोहित बंसल, जीएस चिलवाल, लिंसा जोसेफ , रघुवीर सिंह, राजू पाण्डेय, शोभिता सिंह, कृतिका सिंह, गोलन मेहता शामिल हैं। इस मौके पर मरीजों ने अस्पताल प्रबन्धन और स्वास्थ्य कर्मचारियों को धन्यवाद दिया। 


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन