फोनरवा ने  वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से मुख्य अभियंता से की बिजली संबंधित समस्याओं की शिकायत

नोएडा शहर की बिजली व्यवस्था को बेहतर बनाने को  लेकर फेडरेशन ऑफ नोयडा रेसिडेंट वेलफेयर  एसोसिएशन (फोनरवा) ने  मुख्य अभियंता  वी एन सिंह  के साथ  वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से बैठक का आयोजन किया गया। इस बैठक में विद्युत अधिशाषी अभियन्ता सर्वेश  खरे, बी एल मौर्या एवं अन्य अधिकारी एवं  50 से अधिक आरडब्ल्यूए के पदाधिकारी  उपस्थित थे। 


फोनरवा अध्यक्ष योगेंद्र शर्मा ने  वी एन सिंह एवं अन्य अधिकारियों का स्वागत करते हुए कहा कि  नोएडा शहर में बिजली से संबंधित गंभीर समस्याएं आ रही हैं उन्होंने कहा अभी हाल ही में  कई ट्रांसफार्मर में आग  लगने की घटना घटित हुई  जिसके कारण उन सेक्टरों कि  बिजली घंटों बंद रही। उन्होंने निवेदन किया कि विभाग द्वारा  नोएडा के सभी ट्रांसफार्मर की जांच की जाए और उनकी कमियों को दूर किया जाए जिससे आग लगने की घटनाओं पर काबू पाया जा सके ।निवासियों की बिजली की समस्या को प्रभावी ढंग से हल करने के लिए,  एसडीओ  की संबंधितआरडब्ल्यूए के साथ नियमित बैठक  महीने में एक बार होनी चाहिए है। 


 सदस्यों द्वारा  मुख्य रूप से निम्नलिखित समस्याओं को बताया गया जिनका समाधन जल्दी से जल्दी होना चाहिए ।


फोनरवा महासचिव  के के जैन ने कहा कि  नोयडा के निवासी  बिजली की कटोती से परेशान है । कई सेक्टरों 4 से 5 घंटे का कट लगता है।  
 'नो पॉवर कट ज़ोन' के रूप में अधिसूचित होने के बाद भी, नोएडा में लंबे समय तक  सेक्टरों में बिजली का (आउटेज) लगता है । लेकिन आउटेज स्नैग के कारण होते हैं, आपूर्ति में कमी से नहीं। अतः नोएडा को 'नो-ट्रिपिंग ज़ोन' बनाने के लिए बिजली के बुनियादी ढांचे में  नवीनतम उन्नयन की आवश्यकता है । उन्होंने कहा आरडब्लूए और बरातघर  को घरेलू बिजली का कनेक्शन दिया जाए।


अधिकत्तर आरडब्ल्यूए ने  शिकायतें की उनके सेक्टर में बहुत पुराने बिजली के खंभे है  जिनका  कभी भी गिर जाने का खतरा बना रहता है  हैं क्योंकि उनमें जंग लग गया है और गल गए है। ऐसे खंभों को जल्दी से जल्दी बदलना चाहिए ।


 इसी तरह के पैनल बॉक्स /, जंक्शन बॉक्स और सर्किट ब्रेकर जंग खाए हुए हैं और केबल खराब है। 


 अभी हाल ही में आए आंधी और तूफान के कारण सेक्टर 39 40 41 सेक्टर में काफी नुकसान हुआ है अभी तक हुए नुकसान की पूरी तरह से रिपेयरिंग नहीं हो पाई है अतः जल्दी से जल्दी इनको रिपेयर करवाई जाए 


 अधिकांश सदस्यों की शिकायत थी कि उनके सेक्टर में कई ट्रांसफार्मर लगे हुए हैं परंतु जब भी कोई फॉल्ट होता है तो पूरे सेक्टर की बिजली की सप्लाई बंद कर दी जाती है उनका निवेदन था कि जिस ट्रांसफार्मर में फॉल्ट आया है सिर्फ उस ट्रांसफर से संबंधित घरों की बिजली की सप्लाई बंद की जाए इसके लिए आवश्यक  उपकरण लगाई जाए । 
 श्री ओपी यादव अध्यक्ष अरावली सेक्टर 52 ने कहा कि उनके यहां मीटर बॉक्स आधे से ज्यादा लग चुके हैं परंतु अभी भी बाकी है कई बार यह मामला संबंधित अधिकारी के सामने उठाया गया है परंतु अभी तक यह मीटर बॉक्स नहीं लग पाए हैं अतः बाकी मीटर बॉक्स  को जल्दी से जल्दी लगाया जाए।


सदस्यों का कहना था की ट्रांसफॉर्मर् के पास जंगली पौधे और झाड़ियां उग जाती हैं जिनकी सफाई ना होने के कारण उसमे अक्सर आग लग जाती है जिससे ट्रांसफर तथा अन्य उपकरणों को नुकसान हो जाता है। अतः ट्रांसफार्मर के आसपास की जगह को साफ करवाए जाएं और वहां पर ईटों आदि का खरंजा आदि लगवाए जाए जिससे कि वहां पर इस तरह की झाड़ियां नहीं उग पाए ।


पेड़ों की कोई छंटाई नहीं होती है, जिसके कारण कई बार पत्तियाँ केबल से उलझ जाती हैं, जिससे शॉर्ट सर्किट हो जाता है। रखरखाव के कर्मचारियों की कमी भी एक समस्या है।


मुख्य अभियंता  ने स्वीकार  किया की बिजली के  खम्बे और  पैनल बॉक्स बहुत जर्जर हालात में है ।बिजली के खम्बों को रिपेयर का कार्य सुरु होगया है ।


 वी एन सिंह ने बताया कि उनको 2000 पुराने खम्बों को बदलने की  स्वीकृति मिल गई है जिसका कार्य भी शुरू किया गया था परंतु लॉकडाउन के  कारण यह काम पूरा नहीं हो सका। उन्होंने बताया  अभी तक 650 पुराने खम्बों को बदला गया है। बाकी बचे खम्बों को बदलने का कार्य सुरु होगया है । इसके अलाबा ऐबीसी केबल( एरियल बंडल केबल) इंसुलेटर कंडेक्टर 27 किलो मीटर लाइन तक  बदलने का कार्य चल रहा है । नए एसीबी (Air Circuit Breaker)  बदलने का भी कार्य चलाया जा रहा है। इससे सुचारू रूप से बिजली की सप्लाई में मदद मिलेगी । । कुछ अंडरग्राउंड केबल रिप्लेस की जाएगी और ट्रांसफार्मर के पास कंट्रोल पैनल  लगाए जायगे जिससे वोल्टेज की समस्या में सुधार होगा ।  कुछ पुराने बिजलीघर का भी नवीनीकरण किया जाएगा ।  उन्होंने कहा संबंधित विभाग से बात करके पेड़ों की कटाई का कार पूरे नोएडा में करवाया जाएगा ।इसके अलावा  ट्रांसफार्मर के   के पास और झाड़ियों को और जंगली पौधों को जल्दी से ही साफ करवाए जाएगा
श्री वी एन सिंह ने आश्वासन दिया कि नोएडा में 24 घंटे बिजली की सप्लाई करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए जायगे ।
इस अवसर  पर फोनरवा के अध्यक्ष योगेंद्र शर्मा, महासचिव के के जैन,वरिष्ठ उपाध्यक्ष कर्नल शशि वैद्य,ओ.पी यादव,राजीव गर्ग , अनिल खन्ना, टी सी गोड़, विमल शर्मा, शर्मा,  प्रदीप वोहरा,अशोक कुमार अशोक त्यागी,श्रीमती अनिता जोशी, कर्नल उमेश सिंघल, लोकेश कश्यप, देविंदर चौहान,डी डी6 तिवारी, गिरीश कपूर, पवन गोयल,विजय भाटी, डी के खरवन्दा, गिरिराज सिंह,प्रभात सक्सेना,एस के मिश्रा रोहित घई, अनिल खन्ना,आदि पदाधिकारी उपस्थित थे ।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन