मुठभेड़ में अंतरराज्यीय गिरोह के 6 बदमाश घायल, दो पुलिसकर्मी भी जख्मी

 यूपी और उत्तराखंड के कई थानों में दर्ज हैं दर्जनों मामले


ग्रेटर नोएडा। दादरी पुलिस और बदमाशों के बीच मंगलवार को तड़के हुई जबरदस्त मुठभेड़ में अतर्राज्यीय गिरोह के 6 बदमाश पुलिस की गोली से जख्मी हो गए। इस मुठभेड़ में दो पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं। बदमाशों को गिरफ्तार कर दादरी के सरकारी अस्पताल में दाखिल कराया गया, जहां से उन्हें नोएडा स्थित जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया है। मुठभेड़ में घायल आरक्षी अंकित और नितिन हैं। 


डीसीपी ने बताया कि दादरी पुलिस का सूचना मिली कि हाइवे पर ट्रक ड्राइवरों से लूटपाट और सुनसान स्थान पर खड़े वाहनों के टायर चोरी करने  वाले गिरोह के सदस्य किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक में हैं। इस जानकारी पर पुलिस ने घेराबंदी की। आखिर, मंगलवार को तड़के जारचा रोड स्थित पेरिफेरल पुल के पास बदमाशों से मुठभेड़ हो गई। पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की, लेकिन बदमाश फायर कर भागने लगे। पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की, जिसमें छह बदमाश गोली से जख्मी हो गए। उन्हें गिरफ्तार कर दादरी के सरकारी अस्पताल में दाखिल कराया गया। वहां से डाक्टरों ने जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया।


डीसीपी ने बताया कि गिरफ्तार किए गए बदमाशों में फिरोज पुत्र दिलशाद, यूसुफ पुत्र मुनव्वर हुसैन, मौ. नसीम पुत्र मुनव्वर, आसिफ पुत्र मुनाजिर, गुलाम नवी पुत्र मोहम्मद रफीक और जाने आलम पुत्र मुनाजिर शामिल हैं। ये सभी मुरादाबाद जिले के मैनाढेर थाना क्षेत्र के ग्राम डिंगरपुर और गुरेल के हैं।    इनके कब्जे से दादरी थाना क्षेत्र से चोरी किए गए 10 टायर बरामद किए गए हैं। इसके अलावा 3 तमंचे, 6 कारतूस जिंदा, 3 कारतूस खोखा, 1 तमंचा 312 बोर, 2 कारतूस जिंदा, एक खोखा कारतूस, एक ट्रक 6 टायरा बन्द बॉडी, 4 हाइड्रोलिक जैक, 5 लोहे की रॉड, 5 पाना और 4 दुटके लकड़ी के बरामद हुए हैं। 


उन्होंने बताया कि ये बदमाश हाइवे पर ड्राइवरों से लूटपाट और सुनसान रास्ते पर खड़े वाहनों के टायर चोरी करते थे। ये एक अंतर्राज्यीयी गिरोह है। इन पर ग्रेटर नोएडा और उत्तराखंड के विभिन्न थानों में लूट और चोरी के दर्जनों मुकदमे दर्ज हैं। उन्होंने बताया कि फिरोज के खिलाफ यूपी और उत्तराखंड में 18 मामले दर्ज हैं। इसके अलावा यूसुफ पर 3, मोहम्मद नसीम पर 3, आसिफ के खिलाफ 3, गुलाम और जाने आलम के खिलाफ भी 3-3 मामले दर्ज हैं।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन