एनईए ने की ऊर्जा मंत्री से उद्योगों के बिजली बिलों में तीन माह का फिक्स चार्ज माफ करने की मांग

बिजली बिलों में तीन माह का फिक्स चार्ज माफ करें ऊर्जा मंत्री : विपिन मल्हन


 एनईए की ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा को चिट्ठी, कहा- बुरे दौर से गुजर रहा उद्योग 


नोएडा।  नोएडा एंटरप्रिन्योर्स एसोसिएशन (एनईए) ने प्रदेश ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा से उद्योगों के बिजली बिलों में तीन माह का फिक्स चार्ज पूर्णत: माफ करने की मांग की है। 


ऊर्जा मंत्री को भेजे पत्र में एनईए के अध्यक्ष विपिन मल्हन ने कहा कि कोविड-19 महामारी से देशवासियों के जीवन की रक्षा के लिए किए गए लॉकडाउन का फैसला स्वागत योग्य रहा है। उस दौरान निर्बाध विद्युत आपूर्ति के लिए भी आप धन्यवाद के पात्र हैं। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के कारण मार्च, अपै्रल और मई तीन महीने तक सभी उद्योग बंद रहे। इस कारण उद्यमियों को काफी आर्थिक हानि उठानी पड़ी है। अनलॉक के बाद उद्योगों को सुचारू रूप से चलाने में कई माह का समय लगेगा। इसके लिए अतिरिक्त धन की जरूरत पड़ेगी। 


एनईए अध्यक्ष विपिन मल्हन ने ऊर्जा मंत्री से कहा कि पूर्व में भी उन्होंने लॉकडाउन की अवधि के मार्च, अपै्रल और मई माह के उद्योगों के विद्युत बिलों में फिक्स चार्ज पूर्णत: माफ करने का अुनरोध किया था। क्योंकि वर्तमान में उद्योगों के सामने भीषण आर्थिक संकट है। उसे आर्डर नहीं मिल रहे हैं। श्रमिकों का भी बड़ा अभाव है। एनईए अध्यक्ष ने ऊर्जा मंत्री से कहा है कि इस मुश्किल घड़ी में प्रदेश सरकार उद्यमियों के साथ एक परिवार के मुखिया की तरह खड़ी होकर, बिजली बिलों के फिक्स चार्ज को माफ करने के उनके अनुरोध को स्वीकार करे, जिससे उद्यमी इस मंदी की मार से उबर कर देशहित में अपना योगदान दे सकें।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन