ब्रांड एनआईपीईआर की चमक फिर बढ़ी: फार्मा श्रेणी में उच्च शिक्षा के शीर्ष दस संस्थानों में अपनी जगह बनाई


राष्ट्रीय संस्थागत रैंकिंग फ्रेमवर्क (एनआईआरएफ) में एनआईपीईआर,मोहाली,हैदराबाद और अहमदाबाद में क्रमशः तीसरा, पांचवां और आठवां रैंक हासिल किया
Delhi



रसायन और उर्वरक मंत्रालय में फार्मास्युटिकल विभाग के तत्वावधान में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मास्यूटिकल एजुकेशन एंड रिसर्च (एनआईपीईआर) ने फार्मा श्रेणी में उच्च शिक्षा के शीर्ष दस संस्थानों में अपनी जगह बनाई है।


यह सफलता स्पष्ट रूप से फार्मास्यूटिकल्स और चिकित्सा उपकरणों के क्षेत्र में शिक्षा,अनुसंधान और नवाचार में उनके बेहतर प्रदर्शन और प्रतिबद्धताओं को रेखांकित करता है। इस नवीनतम रैंकिंग ने निश्चित रूप से ''ब्रांड नाईपर'' की शान बढ़ा दी है।


केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री श्री डी. वी. सदानंद गौड़ा और राज्यमंत्री (रसायन और उर्वरक) श्री मनसुख मांडविया ने एनआईपीईआर के सभी संकायों और छात्रों को इस सफलता को प्राप्त करने के लिए किए गए अथक प्रयासों के लिए बधाई दी है।


केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने विभिन्न श्रेणियों में पांच व्यापक मापदंडों पर उनके प्रदर्शन के आधार पर विभिन्न श्रेणियों में उच्च शैक्षणिक संस्थानों की "इंडिया रैंकिंग 2020" जारी की है।


फार्मा श्रेणी में एनआईपीईआर के पास घोषित रैंकिंग को लेकर खुश होने की कई वजह हैं। देश भर के सात एनआईपीईआर में सेएसएएस नगर (मोहाली) ने अपना तीसरा स्थान बरकरार रखा है,जबकि हैदराबाद और अहमदाबाद स्थित एनआईपीईआर ने पिछले वर्ष की तुलना में इस साल एक रैंक में सुधार किया है और उन्हें देश में क्रमशः पांचवां और आठवां स्थान हासिल हुआ है।


सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि इस साल की रैंकिंग में गुवाहाटी,रायबरेली और कोलकाता स्थित तीन अन्य एनआईपीईआर ने उल्लेखनीय प्रदर्शन किया है, जो पहली बार रैंकिंग में शामिल हुए और अपने लिए क्रमश: 11वां,18वां और 27वां स्थान हासिल किया।


इस वार्षिक रैंकिंग के तहतविभिन्न विश्वविद्यालयों, महाविद्यालयों,चिकित्सा,दंत चिकित्सा,कानून, वास्तुकला,इंजीनियरिंग,प्रबंधन और फार्मेसी संस्थानों कोराष्ट्रीय स्तर पर रैंक प्रदान किये गए।


 


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन