गौतमबुद्ध नगर में फिर मिले कोरोना के 14 नए मरीज,5 लोगों को मिली छुट्टी

जिले में अब तक 359 संक्रमित, 235 को मिली छुट्टी, 119 आइसोलेशन वार्ड में

 

नोएडा। गौतमबुद्ध नगर में कोराना वायरस का संक्रमण थमने का नाम नहीं ले रहा है। सोमवार को 14 लोगों में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही जिले में कुल संक्रमितों की संख्या 359 पहुंच गई है। जबकि 5 लोग कोरोना को हराकर अपने घर पहुंच गए। जिले में अब तक स्वस्थ होने वाले लोगों का आंकड़ा 235 पहुंच गया है। फिलहाल, विभिन्न अस्पतालों में 119 लोगों का इलाज चल रहा है। 

 

डिस्ट्रिक्ट सर्विलांस ऑफिसर डॉ. सुनील दोहरे ने बताया कि सोमवार को कुल 343 संदिग्ध लोगों की रिपोर्ट आई है। उनमें 15 लोग संक्रमित पाए गए हैं। इनमें एक पेशेंट दिल्ली का है। संक्रमित पाए गए लोगों में 10 मरीज नोएडा के सेक्टर-16ए स्थित एक कंपनी के हैं। इनमें 09 गौतमबुद्ध नगर और एक दिल्ली का है। इसके अलावा नोएडा के सेक्टर-105 निवासी 55 वर्षीय व्यक्ति, सेक्टर-12 निवासी 63 वर्षीय व्यक्ति, सेक्टर-5 निवासी 11 साल का बच्चा, नोएडा के सलारपुर गांव निवासी 24 साल का युवक और सेक्टर-36 निवासी 68 वर्षीय महिला में संक्रमण की पुष्टि हुई है। 

 

डॉ. सुनील दोहरे ने बताया कि सोमवार को 343 संदिग्ध लोगों की रिपोर्ट आई है। उनमें 15 लोग पॉजिटिव हैं। इनमें एक पेशेंट दिल्ली में क्रॉस नोटिफाइड है। शेष 328 लोग निगेटिव पाए गए हैं। जिले में अब तक कुल 359 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। उनमें 235 लोगों को स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। जिले में अब तक 5 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। फिलहाल 119 पॉजिटिव मरीजों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि सोमवार को जिन 05 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है, 40 साल की महिला इलाज ग्रेटर नोएडा के शारदा अस्पताल, 55 वर्षीय महिला का नोएडा के चाइल्ड पीजीआई और तीन मरीजों का इलाज दिल्ली के अस्पताल में चल रहा था। उन्होंने बताया कि जिले में 16 मरीज क्रॉस नोटिफाइड हैं। वे दिल्ली, गाजियाबाद, आंध्र प्रदेश, वेस्ट बंगाल, आगरा, हापुड़ के हैं। जबकि तीन मरीजों की एंट्री दो बार हुई है।

 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

*सेक्टर १२२ में लेडीज़ क्लब ने धूमधाम से मनाई - डांडिया नाइट *

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव