सेल ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में दिखाया बड़ा दिल

 


सरकार को करोड़ों का योगदान और जनता के बीच जारी है अन्नदान


नई दिल्ली : स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) कोरोना वायरस से होने वाली बीमारी COVID-19 के खिलाफ देशकी लड़ाई में अग्रणी भूमिका निभा रही है। केंद्रीय पेट्रोलियम एवं नेचुरल गैस और इस्पात मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान के मार्गदर्शन में,  सेल ने चार राज्यों - झारखंड, ओडिशा, छत्तीसगढ़ और पश्चिम बंगालराज्यों को कुल 4 करोड़ रुपए की राशि का सहयोग प्रदान किया है। इन राज्यों में सेल के 5 एकीकृत इस्पात संयंत्र – झारखंड में बोकारो इस्पात संयंत्र, ओडिशा में राउरकेला इस्पात संयंत्र, छत्तीसगढ़ में भिलाई इस्पात संयंत्र और पश्चिम बंगाल में दुर्गापुर एवं इस्को इस्पात संयंत्र स्थित हैं। कंपनी ने इन चार राज्यों में से हर राज्य के मुख्यमंत्री राहत कोष में 1 करोड़ रुपये की राशि प्रदान की है।


सेल के अध्यक्ष अनिल कुमार चौधरी ने कहा, “सेल इस देशव्यापी संकट की घड़ी में आगे बढ़कर पहल करते हुए, उन 4 राज्यों के मुख्यमंत्री राहत कोष में एक – एक करोड़ रुपये की राशि का सहयोग करने का निश्चय किया है, जिन राज्यों में हमारे एकीकृत इस्पात संयंत्र स्थित हैं। यह राशि सेल द्वारा पीएम केयर्स फंड में 30 करोड़ रुपये के साथ ही, सेल कार्मिकों के दिन का वेतन, जो करीब 9 करोड़ रुपये की राशि के बराबर होगी, के योगदान के अलावा है।”


कंपनी ने COVID-19 के खिलाफ अपनी लड़ाई में अपने संयंत्रों और इकाइयों में चिकित्सा सुविधाओं को बढ़ाया है। सेल ने कोरोना वायरसको फैलने से रोकने के लिए देशव्यापी अभियान में भागीदारी के साथ बचाव के ज़रूरी कदम उठाए हैं। कंपनी ने संबंधित राज्य सरकारों के स्थानीय अधिकारियों के साथ समन्वय और सहयोग सेअपने सभी संयंत्रों और इकाइयों में अपनी चिकित्सा सेवाओं में वृद्धि की है। सेल ने अपने संयंत्र और इकाइयों के अस्पतालों और आसपास के क्षेत्रों के लोगों को चिकित्सा और स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराने के लिए लगभग 300आइसोलेशन बेड और लगभग 600 क्वारंटाइनसुविधाएं स्थापित की हैं।


इसके साथ ही सेल ने अपने राउरकेला संयंत्र के इस्पात जनरल अस्पताल में एक COVID19परीक्षण की एक प्रयोगशाला और बोकारो संयंत्रके बोकारो जनरल अस्पताल में COVID19 से जुड़े मामलों के लिए पूरी तरह समर्पित देखभाल केंद्र स्थापित किया है। कंपनी ने ओडिशा सरकार को अपने राउरकेला संयंत्र से कोरोना रोगियों के उपचार के लिए पांच वेंटिलेटर सौंपे हैं। सेल ने “प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना” के तहत कंपनी के दो – हिमाचल प्रदेश में स्थित कन्द्रोड़ी और उत्तर प्रदेश में स्थित – जगदीशपुर स्टील प्रोसेसिंग यूनिट समेत देश भर में स्थित संयंत्रों और इकाइयों में व्यापक स्तर पर अन्नदान किया है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन