निर्वाचक सूची के सम्बंध में चल रहे कार्यो की समीक्षा की गई

मुजफ्फरपुर। तिरहुत शिक्षक और तिरहुत स्नातक निर्वाचन क्षेत्र  के लिए प्रमंडलीय आयुक्त पंकज कुमार द्वारा निर्वाचक सूची के सम्बंध में चल रहे कार्यो की समीक्षा की गई।यह समीक्षा जिला पदाधिकारी मुजफ्फरपुर,वैशाली, शिवहर एवं सीतामढ़ी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की गई। समीक्षा में प्रमंडलीय आयुक्त द्वारा जिला एवं प्रमंडल स्तर पर प्राप्त प्रपत्र -18 एवं 19 की स्थिति,उसके निष्पादन की अद्धतन स्थिति,उसकी जांच एवं आवेदनों पर नियमानुसार कार्रवाई के लिए सभी जिलाधिकारियों को निर्देशित किया गया। निर्देश दिया गया कि प्राप्त सभी आवेदनों का प्रतिदिन नामित पदाधिकारियों एवं सहायक निर्वाचक निबंधक पदाधिकारी से जांच कराएं।वैसे कोई भी आवेदन जो विधिक प्रावधान के अनुरूप नही है उसे अस्वीकृत किया जाय तथा सभी सही आवेदनों को निर्धारित प्रक्रिया अनुसार जांचोपरांत स्वीकृत करते हुए ई० आर० एम० एस पर डिजिटाइड करते हुए स-समय इसका निस्तार किया जाय।आयुक्त द्वारा  निर्देशित किया गया कि पार्टिसिपेटिव निर्वाचन के लिए सभी योग्ग व्यक्तियों का नाम निर्वाचक सूची में होना आवश्यक है। इस हेतु सभी जिलापदाधिकारी नियमित अंतराल पर राजनीतिक दलों की बैठक करें तथा अपने जिला अंतर्गत सभी संस्थानों के साथ बैठक कर उन्हें उन्मुखीकरण करें ताकि योग्ग व्यक्ति जागरूक होकर निर्वाचक सूची में अपना नाम दर्ज करा सकें। प्रमंडलीय आयुक्त द्वारा सभी डीएम को सचेत किया गया किआवेदनो के प्राप्ति एवं निस्तार में विधि के उपबंधों का अक्षरशः अनुपालन सुनिश्चित करें। इसके अतिरिक्त उनके द्वारा सभी डीएम को निर्देशित किया गया कि चेहल्लुम,दीपावली और छठ पूजा को देखते हुए सभी जगहो की साफ-सफाई सुनिश्चित करावें।सभी संवेदनशील जगहों को चिन्हित करते हुए दंडाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति सुनिश्चित करें।कहा कि घाटों की साफ-सफाई पर अतिरिक्त संवेदनशीलता की आवश्यकता है।सभी घाटों पर बैरिकेडिंग आदि की व्यवस्था हर-हाल में सुनिश्चित की जाय एवं घाटों पर  एस०डी०आर०एफ की प्रतिनियुक्ति सुनिश्चित की जाय।चेहल्लुम,दीपावली और छठ पूजा को देखते हुए सभी जिलाधिकारी पूरी तत्त्परता,गंभीरता और समर्पण के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन करें।                                


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन