कांग्रेस को प्रोटेक्ट करने के लिये क़दम बढ़ाया 

 


नई दिल्ली - कांग्रेस की गिरती साख के मद्देनज़र, जहां एक ओर कांग्रेस सृदृढ़ एवं मज़बूत बनाने के लिये हर सम्भव प्रयासरत है वही आगामी चार राज्यों के विधान सभा चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस हितैषी अन्य समाजिक संगठन भी कांग्रेस को मजबूत एवं सुदृढ बनाने के लिए अपने अपने कार्यक्षेत्र में कार्यरत हैं ।
पिछले दिनों पंजाब ह्यूमन राइटस प्रोटक्शन काउंसिल के महिला विंग का एक दल पंजाब सहींत भारत मे कांग्रेस को मजबूत बनाने के लिये दिल्ली के 24 अकबर रोड स्थित कांग्रेस मुख्याल में पंजाब प्रभारी एवं डलहौज़ी की विधायका  
 कांग्रेस सीनियर कांग्रेस लीडर आशा कुमारी से सदस्यता के नये अभियान योजना के साथ मिला। 
इस शिष्टमंडल का नेतृत्व कर रही  मैडम नीतू वोहरा नेशनल जनरल सेक्टरी ने प्रेस को जानकारी देते हुए बताया कि इस समय पंजाब ह्यूमन राइट प्रोटक्शन काउंसिल सम्पूर्ण पंजाब में मानव अधिकार के लिये सक्रिय है, जो पंजाब सरकार से आम लोगों को उसका जो अधिकार है उसे दिलवाने अग्रसर हैं तथा पंजाब सरकार ईमानदारी से ह्यूमन राइट प्रोटक्शन काउंसिल की रिपोर्ट पर आम ज़रूरतमंद लोगों मदद कर रही है, इसलिय हम काउंसिल के सदस्यों का विश्वास कांग्रेस पर और भी सुदृढ और मज़बूत हो गया है। उन्होंने बताया कि कांग्रेस को बदनाम करने के लिये अन्य राजनीतिक दलों ने साम दाम दण्ड भेद के तहत देश की जनता को भृमित कर दिया जिसका परिणाम आज देश भुगत रहा है इसी लिए हम देश को भ्रष्टाचारी आपदाओं से उबारने के लिये कांग्रेस को दुबारा से सत्ता में आना अति महत्वपूर्ण है तथा हम कांग्रेस को दुबारा से सत्ता में लाने के लिये हैं संकल्पबद्ध हैं ।
इस अवसर पर प्रमुख रूप से महिला कांग्रेस की महिला नेत्री मैडम सोनिया धवन जिला अध्यक्ष ह्यूमन राइट्स प्रोटक्शन काउंसिल मैडम आरती सोनी सेक्टरी पंजाब मैडम कुलविंदर कौर नैंसी सेक्टरी जिला लुधियाना और इस समय यूथ लीडर प्रिंस राजपूत उपस्थित थीं।
 इस अवसर पर आशा कुमारी विधायका, पंजाब एवं चंडीगढ़ प्रभारी के अलावा अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी का अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुहम्मद नदीम खान तथा उपाध्यक्ष श्री पीएस बाबा से भी यह प्रतिनिधिमंडल पंजाब कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के ऑब्जर्वर तथा इंटक इम्पलाइज एवं ह्यूमन राइटस प्रोटक्शन काउंसिल के राष्ट्रीय अध्यक्ष कुंवर ओंकार सिंह नरूला के नेतृत्व में मिल कर पंजाब में अल्पसंख्यको के साथ पिछड़ी एवं अतिपिछड़ी तथा दलितों को भी आगामी चार विधान सभाओं के चुनाव के मद्देनजर शामिल कर उन्हें भी ज़िममीदारिओं का पद दे कर सम्मानपूर्वक कार्यभार देने का सुझाव दिया ।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सुपरटेक टावर के ध्वस्त होने के बाद बढ़ेंगी स्वास्थ्य चुनौतियां, रखें ये सावधानियॉ

गोविंद सदन दिल्ली के संस्थापक बाबा विरसा सिंह के आगमन दिवस पर गुरमत समागम का आयोजन

साई अपार्टमेंट सेक्टर 71 में लगाया गया टीकाकरण शिविर