भारत में विश्व शांति शिखर सम्मेलन

नई दिल्ली में सितम्बर 2019 में विश्व शांति सम्मलेन के आयोजन में


सतत विकास के लिए कानून बनाने की मांग की जाएगी


यह शिखर सम्मेलन दक्षिण कोरियाई अंतर्राष्ट्रीय गैर सरकारी संगठन द्वारा एक पहलहै,


हैवेनली कल्चर वर्ल्ड पीस रेस्टोरेशन ऑफ़ लाइट (HWPL)


 विश्व शांति शिखर सम्मेलन नई दिल्ली में 4 सितंबर 2019 को आयोजित किया जाएगा। इस शिखर सम्मेलन का आयोजन भारत, दक्षिण कोरिया, फ्रांस, ऑस्ट्रेलिया, रूस, जाम्बिया, और संयुक्त राज्य अमेरिका में 87 देशों में 130 से अधिक स्थानों पर एक साथ किया जा रहा है, शांति सम्मलेन में HWPL अंतर्राष्ट्रीय NGO के साथ मिलकर अंतर्राष्ट्रीय अभिनेताओं, नागरिको समाज एवं संगठनों व सरकार के सहयोग से जिसमें संयुक्त राज्य अमेरिका शामिल भी हैं।


सम्मलेन का विषय है "स्थायी शांति व सतत विकास के लिए DPCW का कार्यान्वयन" व उम्मीद की जाती है इससे युध्द की समाप्ति, शांति के लिए क़ानूनी रूप से बाध्यकारी अंतरराष्ट्रीय कानून की स्थापना DPCW (Declaration of Peace and Cessation of War) के आधार पर हो सकेगी।


      DPCW(Declaration of Peace and Cessation of War), एक व्यापक दस्तावेज जो संघर्षों को रोकने और हल करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय समाज के सदस्यों की भूमिका को स्पष्ट करता है, एक मसौदा प्रस्ताव के रूप में संयुक्त राष्ट्र में पेश किए जाने की प्रक्रिया में है। इस प्रक्रिया के एक भाग के रूप में, एचडब्ल्यूपीएल (Heavenly Culture, World Peace, Restoration of Light) और उससे जुड़े युवा संगठन, IPYG, दुनिया भर में "लेजिस्लेटेड पीस"(Legislate Peace) परियोजना को बढ़ावा देते हैं, जिसने अपने संबंधित राष्ट्रीय नेताओं को लिखे हस्ताक्षर और शांति पत्रों के माध्यम से 195 देशों से 1.5 मिलियन लोगो समर्थन प्राप्त किया है।


      दक्षिण कोरिया में 18 से 19 सितंबर तक 2 दिनों के लिए आयोजित इस कार्यक्रम में अंतरराष्ट्रीय कानून विशेषज्ञों, विश्वासपात्र नेताओं, विद्वानों, युवाओं और महिला संगठनों और मीडिया व्यक्तियों की उपस्थिति में सतत विकास के लिए शांति कानून स्थापना पर चर्चा होगी।


      मेजबान संगठन, एचडब्ल्यूपीएल (HWPL), जिसे "स्वर्गीय संस्कृति, विश्व शांति, प्रकाश की बहाली (Heavenly Culture, World Peace, Restoration of Light)" एक शांति संस्था है जो कि अंतरराष्ट्रिय स्तर पर सक्रीय रूप से कई प्रोजेक्ट द्वारा विभिन्न देशो में कार्य कर रही है। NGOसियोल मेट्रोपोलिटन व सयुक्त राष्ट्र संघ कि विभिन्न एजेंसीयों से जुडी हुई है। 


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सुपरटेक टावर के ध्वस्त होने के बाद बढ़ेंगी स्वास्थ्य चुनौतियां, रखें ये सावधानियॉ

गोविंद सदन दिल्ली के संस्थापक बाबा विरसा सिंह के आगमन दिवस पर गुरमत समागम का आयोजन

साई अपार्टमेंट सेक्टर 71 में लगाया गया टीकाकरण शिविर