आजम खाँ के खिलाफ जंतर मंतर पर एक जोर- दार प्रदर्शन

अखिल भारतीय जायसवाल सर्ववर्गीय महासभा जोकि  देश के 10 करोड़ कलवार , कलाल कलार (कलचुरी) समाज का प्रतिनिधित्व करती है । उसकी प्रादेशिक इकाई जायसवाल सर्ववर्गीय महासभा दिल्ली ऐन.सी.आर( पंजीकृत) के अध्यक्ष के नेतृत्व में सैकड़ो की संख्या में आये  लोगो ने   सांसद  सह लोकसभा चेयर पर्सन एवम मेरे समाज की गौरव माननीया श्रीमति रमा देवी के लिए जिस प्रकार अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल किया गया । आजम खाँ ने माननीय रमा देवी से अमर्यादित भाषा में बात कर देश की सभी महिलाओं तथा संपूर्ण वैश्य समुदाय , कलवार जायसवाल समाज का घोर अपमान किया है , को लेकर आजम खान के खिलाफ एक जोर- दार प्रदर्शन प्रात 11:00 बजे जंतर मंतर पर किया गया | प्रदर्शन में आये सभी सामाजिक बंधुओ ने  मांग किया  की आंजम खांन की सदस्यता तत्काल प्रभाव से निरस्त की जाये । केवल माफ़ी नहीं , सदन से निलम्बन किया जाये , अखिल भारतीय जायसवाल सर्ववर्गीय महासभा की  देश भर की सभी  सभाओ ने एक स्वर में  घोर निंदा किया है और आजम खाँ से अविलंब माफी मांगने की मांग करती है।  अधिवक्ता शैलेन्द्र जायसवाल अध्यक्ष ने अपने संबोधन में कहा की आजम खाँ  मानसिक रूप से विकलांग है , ऐसे ब्यक्ति की जगह सदन में नहीं , जेल में होनी चाहिए | भूमाफिया आजम खान ने समाज को एक विशाल जनांदोलन के लिए मजबूर किया  । पुरे देश में धरने प्रदर्शन कर विरोध प्रगट किया जा रहा  प्रदर्शन में समाज के प्रमुख जगह जगह भाग ले रहे | प्रदर्शन के बाद  एक प्रतिनिधि मंडल  देश के प्रधानमंत्री , गृहमंत्री एवं लोकसभा अध्यक्ष को ज्ञापन दिया गया और उक्त मानगो को दोहराया गया कि प्रदत्त अधिकरो का प्रयोग कर तत्काल प्रभाव से आजम खाँ को संसद से निलंबित  करे