नोएडा के अस्पतालों ने मरीज़ों को चिकित्सा व्यय में बचत करने तथा बेहतर योजना बनाने में मदद करने के लिए अफाॅर्डप्लान के साथ की साझेदारी

मरीज़ों पर चिकित्सा सुविधाओं के ज़रूरत से ज़्यादा व्यय के बोझ को कम करने तथा स्वास्थ्य सेवाओं को किफ़ायती बनाने के प्रयास में शहर के कई अस्पतालों जैसे शर्मा मेडिकेयर सुपर स्पेशलटी हाॅस्पिटल, त्रिपाठी हाॅस्पिटल, आईकेयर आई हाॅस्पिटल और एसजेएम हाॅस्पिटल एवं आईवीएफ सेंटर ने अफाॅर्डप्लान के साथ साझेदारी की है। यह अनूठा फिन-टेक प्लेटफाॅर्म उन मरीज़ों के लिए चिकित्सा के खर्च को सुगम बनाएगा जिनके पास चिकित्सा बीमा नहीं है, यह इलाज में होने वाले खर्च की बड़ी राशि को आसानी से चुकाई जा सकने वाली छोटी किश्तों में बदल देगा।


अफाॅर्डप्लान अपनी तरह का पहला फाइनेन्शियल टेक्नोलाॅजी प्लेटफाॅर्म है जो स्वास्थ्य सेवाओं पर होने वाले खर्च में बचत करने में मदद करता है। इससे मरीज़ गैर-आपातकालीन एवं पहले से निर्धारित चिकित्सा प्रक्रियाओं जैसे मैटरनिटी, डेंटल एवं कैटरेक्ट सर्जरी में होने वाले खर्च में बचत कर सकते हैं और इस व्यय को आसानी से चुका सकते हैं। इस अनूठे बचत समाधान के ज़रिए अफाॅर्डप्लान चिकित्सा व्यय की लागत में 15-20 फीसदी कमी लाता है। फार्मेसी, पैथ लैब सहित देश भर से 800 अस्पताल एवं सहायक चिकित्सा संगठन अफाॅर्डप्लान के साथ साझेदारी कर चुके हैं। दिल्ली एनसीआर में छोटे एवं मध्यम श्रेणी के 60 फीसदी से अधिक अस्पतालों ने अफाॅर्डप्लान के साथ साझेदारी की है।


डाॅ प्रीति शर्मा, शर्मा मेडिकेयर सुपर स्पेशलटी अस्पताल ने कहा, ''अफाॅर्डप्लान मरीज़ों की मदद के लिए अच्छा मंच है जो पहले से निर्धारित चिकित्सा प्रक्रियाओें के खर्च में बचत करता है। यह मरीज़ों के लिए व्यवस्थित, ऋण रहित एवं आसान विकल्प है।''

तेजबीर सिंह, सह-संस्थापक एवं सीईओ, अफाॅर्डप्लान ने कहा, ''स्वास्थ्य सेवाओं पर होने वाले खर्च का असर व्यक्ति के जीवन पर पड़ता है, अक्सर बिना योजना के होने वाला इस तरह का खर्च मरीज़ और उसके परिवार पर भारी पड़ता है। हमारे बचत उत्पादों के ज़रिए मरीज़ इलाज के खर्च को चुकाने के लिए भुगतान के प्रत्यास्थ विकल्प चुन सकते हैं। अफाॅर्डप्लान उन्हें भुगतान के लिए विशेष समधान मुहैया कराता है, जिससे वे अपनी लिक्विडिटी के अनुसार इलाज का खर्च आसानी से चुका सकते हैं।''


अफाॅर्डप्लान के द्वारा मरीज़ अपनी सुविधानुसार अफाॅर्डप्लान डेस्क , बैंक ट्रांसफर या आॅनलाईन पेमेन्ट के ज़रिए यह राशि चुका सकते हैं या उनके घर से भी राशि का संग्रहण किया जा सकता है। अफाॅर्डप्लान डेंटल, आई केयर, नी रिप्लेसमेन्ट तथा मैटरनिटी सेवाओं में आने वाले खर्च को कवर करता है। आमतौर पर नाॅर्मल डिलीवरी में रु 20,000 से रु 50,000 तक का खर्च आता है। इस अनूठे उत्पाद के साथ इलाज की लागत 15-20 फीसदी तक कम हो जाती है।


 


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सुपरटेक टावर के ध्वस्त होने के बाद बढ़ेंगी स्वास्थ्य चुनौतियां, रखें ये सावधानियॉ

गोविंद सदन दिल्ली के संस्थापक बाबा विरसा सिंह के आगमन दिवस पर गुरमत समागम का आयोजन

साई अपार्टमेंट सेक्टर 71 में लगाया गया टीकाकरण शिविर