किसानों को रोकने के लिए जिले की सीमाओं पर रहा पुलिस का कड़ा पहरा

 नोएडा-दिल्ली रूट पर बंद रही मेट्रो सेवा, परेशान रहे मुसाफिर


नोएडा। केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ गुरुवार को किसानों के दिल्ली जाने से रोकने के लिए गौतमबुद्ध नगर जिले की दिल्ली और हरियाणा से लगी सभी सीमाओं पर पुलिस का कड़ा पहरा रहा। किसान आंदोलन के मद्देनजर दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) ने गुरुवार को आनंद विहार से वैशाली और न्यू अशोक नगर से नोएडा सिटी सेंटर तक अपनी मेट्रो सेवा बंद कर दी थी। बॉर्डर पर पुलिस की चौकसी और मेट्रो रेल का संचालन न होने से लोगों को खासी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। केंद्र सरकार की नीतियों के विरोध में विभिन्न किसान संगठनों ने गुरुवार को दिल्ली के जंतर-मंतर पर किसानों को पहुंचने का आह्वान किया था।


नोएडा, गाजियाबाद और हरियाणा के किसानों को दिल्ली जाने से रोकने के लिए दिल्ली से सटे बॉर्डर पर सुरक्षा के खास इंतजाम किए गए थे। हरियाणा के किसान यमुना एक्सप्रेस वे के रास्ते दिल्ली ना पहुंच सकें, इसके लिए यमुना एक्सप्रेस वे के जेवर टोल और हरियाणा के पलवल से लगने वाली जिले की सीमाओं पर सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतजाम किए गए थे। नोएडा के सेक्टर-14ए स्थित नोएडा-दिल्ली प्रवेश द्वार पर किसानों को रोकने के लिए भारी पुलिस बल की तैनाती की गई थी। पुलिस के बड़े अफसर खुद मौके पर मुस्तैद रहे। किसानों के आंदोलन के मद्देनजर डीएमआरसी ने दिल्ली के न्यू अशोक नगर और आनंद विहार से गाजियाबाद के वैशाली तक मेट्रो रेल की सेवाएं दोपहर दो बजे तक बंद कर दी थी। इससे प्रतिदिन दिल्ली नोएडा और गाजियाबाद के बीच आने-जाने वाले यात्रियों को मुश्किलों का सामना करना पड़ा। दूसरी ओर, बार्डर पर चेकिंग और पुलिस के कड़े पहरे के कारण जाम के हालात बने रहे। इससे लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। किसान अब भी दिल्ली पहुंचने पर अड़े हुए हैं। पुलिस को आशंका है कि रात के वक्त किसान दिल्ली जा सकते हैं। इसलिए वह कोई भी ढिलाई बरतने के मूड में नहीं है। इसलिए गौतमबुद्ध नगर जिले की हरियाणा और दिल्ली से लगी सीमाओं पर अभी चौकसी जारी रहेगी।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन