सवा तीन करोड़ के मादक पदार्थों के साथ 6 तस्कर गिरफ्तार

स्कूल, कालेज और हास्टलों में करते थे चरस, गांजा और डोडा की सप्लाई


 एनसीआर के अलावा देश के कई राज्यों में फैला है नशे के सौदागरों का जाल


ग्रेटर नोएडा। स्कूल, कालेज और हास्टलों में छात्रों को मादक पदार्थों की सप्लाई करने वाले छह तस्करों को बीटा-2 थाने की पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पकड़े गए लोगों के पास से 42 किलो डोडा, 172 किलो गांजा, 176 किलो भांग और 10.5 किलो चरस बरामद हुआ है। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में इसका मूल्य लगभग तीन करोड़ 36 लाख रुपये है। पुलिस ने इनके पास से अवैध हथियार भी बरामद किए हैं।   


डीसीपी ने बताया कि दो सितंबर को बीटा-2 थाने की पुलिस ने सूचना के आधार पर बुलंदशहर निवासी काफिल पुत्र साबिर और नईम पुत्र अजीज खां को गिरफ्तार कर उनके पास से 03 किलो 400 ग्राम गांजा बरामद किया। पूछताछ के दौरान अभियुक्तों ने स्कूल, कालेज, हॉस्टल और पीजी में गांजा सप्लाई की बात स्वीकार की। यह भी बताया कि वे बुलंदशहर जिले के अनूपशहर से मादक पदार्थ लाकर यहां सप्लाई करते हैं। 


पुलिस अफसर ने बताया कि पकड़े गए दोनों अभियुक्तों के साथ बुलंदशहर गई पुलिस टीम ने राधा किशन पाण्डे पुत्र सुआ लाल, मूलचंद उर्फ मूला पुत्र छत्रपाल, शिवम शर्मा पुत्र स्वर्गीय आलोक शर्मा और तरुण चौधरी पुत्र चन्द्रपाल सिंह को गिरफ्तार किया है। उनकी निशानदेही पर किराये के दो कमरों से 42 किलो डोडा, 172 किलो गांजा, 176 किलो भांग और 10.5 किलो चरस बरामद किया गया है। उन्होंने बताया कि अभियुक्त तरुण चौधरी के कब्जे से एक तमंचा और 02 जिन्दा कारतूस बरामद हुआ है। अंतराष्ट्रीय बाजार में पकड़े गए मादक पदार्थों का मूल्य 3 करोड़ 36 लाख रुपये है।


डीसीपी ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्तों का जाल दिल्ली और एनसीआर के शहरों के अलावा उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब, गुजरात आदि राज्यों में भी फैला हुआ है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन