धनगर समाज को एसटी आरक्षण का लाभ दिलाने के लिए प्रधानमंत्री से मिलेंगे रामदास आठवले

*देश के कई राज्यों के धनगर समाज के प्रतिनिधिमण्डल  से मिले केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री*

नई दिल्ली। रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया(आठवले) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री रामदास आठवले ने कहा है कि धनगर समाज की समस्याओं को लेकर प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी  से भेंट की जाएगी। इस समाज के लोग अनुसूचित जनजाति(एसटी) वर्ग का आरक्षण चाहते हैं, इस दिशा में प्रधानमंत्री मोदी के सामने मामले को उठाया जाएगा। नई संसद भवन में महारानी अहिल्या होलकर की मूर्ति लगाने के लिए भी प्रधानमंत्री मोदी से मांग की जाएगी।

नई



दिल्ली के अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर में बुधवार को  देश के कई राज्यों से आए हुए धनगर समाज के लोगों के साथ बैठक करते हुए केंद्रीय सामाजिक एवं अधिकारिता न्याय मंत्री श्री रामदास आठवले ने कहा कि धनगर समाज के विद्यार्थियों के लिए राजधानी में हॉस्टल बनाने के लिए उनका मंत्रालय पहल करेगा। संसद भवन में डॉ. अंबेडकर, महात्मा गांधी की मूर्ति लगी है, ऐसे में अहिल्या होलकर की मूर्ति भी नई बनने जा रही पार्लियामेंट में लगाई जानी चाहिए।

केंद्रीय मंत्री श्री आठवले ने कहा कि वर्तमान समय में हमारे मंत्रालय ने ओबीसी में कटेगराइजेशन के लिए कमेटी बनाई है। घुमूंतू कम्युनिटी को अलग आरक्षण देने की बात भी चल रही है। हम चाहते हैं कि धनगर समाज के लोगों को उचित राजनीतिक आरक्षण का लाभ मिले। अभी ओबीसी में होने के कारण उन्हें समुचित आरक्षण का लाभ नहीं मिल पा रहा है। 



उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने भी धनगर समाज को एसटी में शामिल करने का आश्वासन दिया था, लेकिन अभी मांग नहीं पूरी हुई है। प्रधानमंत्री मोदी से मिलकर इस मामले को उठाया जाएगा। केंद्रीय जनजाति कार्य राज्य मंत्री रेणुका सिंह ने कहा कि राज्य सरकारों की ओर से अगर एसटी लिस्ट में डालने का प्रस्ताव आता है तो उनका मंत्रालय जरूर विचार करेगा। इस मौके पर भाजपा के राज्यसभा सांसद विकास महात्मे आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

*सेक्टर १२२ में लेडीज़ क्लब ने धूमधाम से मनाई - डांडिया नाइट *

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव