नोएडा में दूसरे दिन भी बंद रहा ब्ल्यू लाइन मेट्रो रेल का संचालन

परेशान रहे मुसाफिर, सुरक्षा के लिए तैनात रहे सीआईएसएफ और पुलिस के जवान


नोएडा। किसान आंदोलन के चलते दिल्ली के द्वारका को नोएडा इलेक्ट्रानिक सिटी से जोड़ने वाली (ब्ल्यू लाइन) मेट्रो का संचालन शुक्रवार को दूसरे दिन भी बंद रहा। मेट्रो सेवा बंद रहने के कारण यात्रियों को खासी परेशानी उठानी पड़ी। नोएडा के सभी मेट्रो स्टेशनों पर सुरक्षा के लिए सीआईएसएफ और पुलिस की तैनाती की गई थी। सेक्टर-38ए स्थित बॉटेनिकल गार्डन मेट्रो स्टेशन पर सुबह नेहरू प्लेस जाने के लिए पहुंचे सेक्टर-50 निवासी शेखर को मेट्रो स्टेशन के दरवाजे बंद मिले। जानकारी करने पर उन्हें बताया गया कि किसान आंदोलन की वजह से आज भी नोएडा-दिल्ली के बीच मेट्रो रेल का संचालन बंद रहेगा। इससे उन्हें खासी परेशानी का सामना करना पड़ा।


नोएडा निवासी मुकेश का कहना था कि उन्हें आवश्यक कार्य से पंजाबी बाग जाना था, लेकिन मेट्रो संचालन बंद है। अब उन्हें बस या ऑटो का सहारा लेना पड़ेगा। गुरुग्राम जाने के लिए बॉटेनिकल गार्डन मेट्रो स्टेशन पहुंचे विमलेश शर्मा ने भी मेट्रो संचालन बंद होने पर नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि किसानों के प्रदर्शन की वजह से मेट्रो का संचालन बंद करना उचित नहीं है। नोएडा निवासी एवं छात्र राहुल शर्मा का कहना था कि वह ग्रेटर नोएडा के लिए मेट्रो पकड़ने बॉटेनिकल गार्डन आए थे। स्टेशन पर पहुंच कर पता चला कि मेट्रो संचालन बंद है। अब उन्हें ग्रेटर नोएडा जाने के लिए यातायात के अन्य साधनों का उपयोग करना होगा। कुछ ऐसी ही स्थिति अन्य यात्रियों की भी रही। यात्री विभिन्न स्थानों के लिए मेट्रो स्टेशन पहुंचे थे, लेकिन स्टेशन बंद होने के कारण उन्हें निराश वापस लौटना पड़ा। गौरतलब है कि द्वारका-नोएडा इलेक्ट्रानिक सिटी कॉरिडोर पर नोएडा के सभी मेट्रो स्टेशनों को सुबह से ही बंद रखा गया। सेक्टर-15, 16 व 18, बॉटेनिकल गार्डन, गोल्फ कोर्स, सिटी सेंटर स्टेशन, सेक्टर-62 आदि मेट्रो स्टेशन बंद रहे। सुरक्षा के लिए इन स्टेशनों पर सीआईएसफ के जवानों के साथ पुलिस बल की तैनाती की गई थी। स्टेशन के बाहर चस्पा नोटिस में कहा गया था कि दिल्ली जाने के लिए यात्री न्यू अशोक नगर स्टेशन जाकर मेट्रो सेवा का लाभ उठाएं।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन