संसद में विधेयक पारित होने पर किसानों ने किया कृषि मंत्री श्री तोमर का अभिनंदन

दिल्ली, हरियाणा व उत्तर प्रदेश के सैकड़ों किसानों ने प्रधानमंत्री व कृषि मंत्री का माना आभार


किसानों के जीवन में खुशहाली लाएंगे नए कानून- श्री तोमर


नई दिल्ली। संसद में कृषि सुधार के विधेयक पारित होने पर दिल्ली, हरियाणा व उत्तर प्रदेश के सैकड़ों किसानों ने केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री  नरेंद्र सिंह तोमर का बुधवार को उनके नई दिल्ली स्थित निवास पर अभिनंदन किया। साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार माना।


इस अवसर पर श्री तोमर ने कहा कि नए कानून किसानों के जीवन में खुशहाली लाएंगे, उन्हें शोषण से मुक्ति दिलाएंगे। श्री तोमर ने कहा कि कृषि संबंधी नए विधेयकों से देश के किसान अब कहीं भी, किसी को भी अपनी कृषि उपज बेच सकेंगे, उन्हें अब कीमत के मामले में भी समझौता नहीं करना पड़ेगा। किसानों को अपनी उपज बेचने के लिए अब न तो भटकना पड़ेगा, न ही दिन-दिनभर मंडी में खड़े रहना पड़ेगा, बल्कि खरीदार खुद उनके पास, उनके घर-खेत पर आएंगे और उपज खरीदेंगे। इससे किसानों को अच्छा मुनाफा होगा। विधेयक के प्रावधान के अनुसार फसल खरीदने का करार होगा, यह करार किसी भी सूरत में किसानों की जमीन के लिए नहीं होगा, ऐसा करना कानून में वर्जित रहेगा। कोई भी विवाद होने पर एसडीएम इसका निपटारा तीस दिनों के भीतर करेंगे, वहीं किसानों को उनकी उपज का भुगतान भी अधिकतम तीन दिनों में हो जाएगा। करार के उल्लंघन की स्थिति में किसानों को सिर्फ आदान का खर्चा देना पड़ेगा, उनसे अन्य कोई भी वसूली नहीं की जाएगी, जबकि व्यापारी द्वारा करार का उल्लंघन किए जाने पर उसे किसानों को औसत मूल्य तो भुगतान करना ही पड़ेगा, साथ ही उस पर भारी जुर्माना भी लगेगा। नए कानून से किसानों को शोषण से आजादी मिलेगी।


श्री तोमर ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी  ने हमेशा किसानों का भला ही सोचा है और अब ये नए कानून भी किसान हितैषी ही है। प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने गांव-गांव सुविधाएं बढ़ाने के लिए पहली बार एक लाख करोड़ रूपए के कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर फंड की शुरूआत की है। पहली बार, दस हजार नए एफपीओ बनाने की स्कीम भी प्रारंभ की गई है। कृषि सुधारों के तहत आधुनिक खेती होने से हमारी युवा पीढ़ी भी कृषि की ओर आकर्षित होगी। कृषि क्षेत्र की ग्रोथ बढ़ेगी तो देश की अर्थव्यवस्था और मजबूत होगी। श्री तोमर ने बताया कि देश में एमएसपी पर उपज की खरीद भी पहले की तरह चलती रहेगी। खरीफ व रबी की एमएसपी घोषित भी की जा चुकी है।


श्री तोमर ने कहा कि कांग्रेस सहित इक्का-दुक्का राजनीतिक दल कृषि विधेयकों के बारे में तो कुछ बोल नहीं पा रहे हैं, इसके विपरीत झूठ बोलकर किसानों को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन हमारे किसान भाई बहुत जागरूक हैं, वे इन स्वार्थी नेताओं के बहकावे में आने वाले नहीं है। राज्य सभा में कतिपय विपक्षी सदस्यों ने जिस तरह का अलोकतांत्रिक आचरण किया, उसकी जितनी निंदा की जाए, कम है।


कार्यक्रम में श्री तोमर का पगड़ी-साफा पहनाकर अभिनंदन किया गया। इस मौक पर बड़ी संख्या में किसानों के साथ ही केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री  कैलाश चौधरी पूर्व केंद्रीय मंत्री श्री सत्यपालसिंह, दिल्ली विधानसभा नेता प्रतिपक्ष रामवीरसिंह बिधूड़ी, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद व दिल्ली व अन्य जिलों के पार्टी संगठनों के पदाधिकारी, विधायक, पंच-सरपंच मौजूद थे